होम > मनोरंजन > हास्य

एग्जाम आने पर स्टूडेंट के द्वारा पढ़ी गयी शायरी

एग्जाम आने पर स्टूडेंट के द्वारा पढ़ी गयी शायरी

एग्जाम आने पर स्टूडेंट के द्वारा पढ़ी गयी शायरी

-------------------------------------------------------------------------------------

पेपर के रिश्ते भी अनोखे होते हैं,

जो याद न आएं वही प्रश्न कम्पलसरी होते हैं।

-------------------------------------------------------------------------------------

समझ कुछ आता नहीं,

बस मदद की आस है,

वैसे तो पूजा पाठ करता नहीं मैं,

लेकिन अब उसी की आस है।

-------------------------------------------------------------------------------------

जैसे ही डेट शीट आती है,

किताबों की खोज शुरू हो जाती है।

-------------------------------------------------------------------------------------

किताबें भी तुम्हारी तरह हो गयी है,

काफी दिन हो गए, नजर ही नहीं आयी।

-------------------------------------------------------------------------------------

बुलाती है मगर जाने का नहीं,

पेपर का समय है बेटे इसे गंवाना नहीं।

-------------------------------------------------------------------------------------

पल भर की जिंदगी है और लंबा रास्ता है,

मेरा पेपर दे दो यार, तुझे रब का वास्ता है।

-------------------------------------------------------------------------------------

पार्टी होगी, न पार्टी की बात होगी,

अब जो भी बात होगी वो पेपरों के बाद ही होगी।

-------------------------------------------------------------------------------------

पेपर तो मेरा हर साल ही अच्छा जाता है,

फिर जाने क्यों रिजल्ट हर बार बेकार आता है।

---------------------------------------------------------------------------

हसने और हँसाने के लिए पढ़ते रहिये मेधज न्यूज़….AR