होम > मनोरंजन > कवितायें और कहानियाँ

आज का जीवन मंत्र

आज का जीवन मंत्र

शुभ संयोग:=30 जून से गुप्त नवरात्रि शुरू हो रहे है !  इस दौरान खरीदारी के लिए आठ शुभ मुहूर्त; तिथि क्षय नहीं होने से पूरे नौ दिन के रहेंगे नवरात्र!=आषाढ़ महीने में आने वाले गुप्त नवरात्र की शुरुआत 30 जून से होने जा  रही है। इस साल कोई तिथि कम नहीं रहेगी। इसलिए ये नवरात्रि पूरे 9 दिनों के होंगे । गुरुवार को प्रतिपदा तिथि सूर्योदय व्यापिनी रहेगी। इस कारण इसी दिन से ही गुप्त नवरात्र की शुरुआत मानी जाएगी। इसके बाद 8 जुलाई को भड़ली नवमी पर गुप्त नवरात्र का आखिरी दिन रहेगा। इस नवरात्रि में खरीदारी और नई शुरुआत के लिए 8 शुभ मुहूर्त रहेंगे।
आठ दिन शुभ मुहूर्त:
इस बार नवरात्र में शुक्रवार को पुष्य नक्षत्र होने के साथ ही 2 सर्वार्थसिद्धि, 4 रवियोग, 1 त्रिपुष्कर, बुधादित्य और गजकेसरी राजयोग बनेंगे। इस तरह सिर्फ 3 जुलाई को छोड़कर पूरी नवरात्रि में खरीदारी और नए कामों की शुरुआत की जा सकेगी।

जाने किस दिन कौन सा योग है!=
30 जून, गुरुवार: सर्वार्थसिद्धि योग
1 जुलाई, शुक्रवार: शुक्र पुष्य
2 जुलाई, शनिवार: रवियोग
4 जुलाई, सोमवार: रवियोग
5 जुलाई, मंगलवार: त्रिपुष्कर और रवियोग
6 जुलाई, बुधवार: सर्वार्थसिद्धि
7 जुलाई, गुरुवार: अष्टमी जया तिथि, शिवयोग बुधादित्य, गजकेसरी
8 जुलाई, शुक्रवार: रवियोग

स्वयंसिद्ध होते हैं गुप्त नवरात्र =
 गुप्त नवरात्रि अपने आप में सिद्ध होती हैं। यानी इन दिनों में  आप जो भी   काम, पूजा-पाठ, खरीदारी और नई शुरुआत करते है उसमे  सफलता मिलती है। इन तिथियों में चंद्रमा की कलाएं बढ़ती है,  चंद्रमा मन का स्वामी होता है। इसलिए इन नौ दिनों पूरे xनौ   उत्साह और अच्छे मन के साथ काम 

अखंड नवरात्र होना शुभ
ये ऐसा विशेष समय होता है जब गृहस्थ और साधक कम समय में अपनी इच्छा अनुसार सिद्धि प्राप्त कर सकते हैं। इन दिनों मां दुर्गा की पूजा-उपासना की जाती है। ये नवरात्र तंत्र विद्या सीखने वाले और मंत्रों की सिद्धि चाहने वालों के लिए खास होती है। इस साल गुप्त नवरात्र पूरे नौ दिन की है। यानी अखंड नवरात्र जल्दी सफलता देने वाले माने गए हैं। गुप्त नवरात्रि में 10 महाविद्याओं की पूजा की जाती है। गुप्त नवरात्र में प्रलय एवं संहार के देवी-देवता रूद्र और मां काली की भी पूजा की जाती है।