होम > शासन

सीएम योगी ने विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को चेक, प्रमाण पत्र एवं प्रतीकात्मक चाभी प्रदान की

सीएम योगी ने विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को चेक, प्रमाण पत्र एवं प्रतीकात्मक चाभी प्रदान की

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनपद कानपुर नगर के डी0ए0वी0 प्ले ग्राउण्ड, फूलबाग में 556 करोड़ रुपये से अधिक लागत की 28 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण एवं 17 विकास परियोजनाओं का शिलान्यास किया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व एवं मार्गदर्शन में प्रदेश सरकार के कार्याें से इस औद्योगिक नगरी के समग्र विकास को गति मिली है। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि औद्योगिक नगरी कानपुर में आधारभूत अवसंरचना को विकसित करने व कानपुर नगर को नयी ऊंचाईयों तक पहुंचाने के कार्य किये जा रहे हैं। कानपुर नगर में शीघ्र मेट्रो ट्रेन आ रही है और आगामी नवम्बर माह में इसका संचालन प्रारम्भ हो जाएगा। कानपुर एयरपोर्ट का विस्तार किया जा रहा है, जिसमें एक साथ तीन विमान की पार्किंग और टर्मिनल में 500 से अधिक लोगों के बैठने की व्यवस्था होगी। उन्होंने कहा कि यह सभी विकास कार्य जनप्रतिनिधियों की मेहनत व लगन का नतीजा हैं, जिससे जनपद के प्रत्येक गांव, मोहल्ला व वाॅर्ड में विकास की लहर दिखाई दे रही है।


मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री निरन्तर देश के सभी लोगों के लिए समर्पित भाव से कार्य कर रहे हैं। प्रदेश में भी उन्होंने अनेक विकास परियोजनाओं को लागू कराया है। प्रदेश सरकार साढे़ चार साल में सुशासन का माॅडल देने के साथ बेहतर कानून व्यवस्था हेतु प्रतिबद्ध होकर कार्य कर रही है। प्रदेश के नौजावानों, किसानों, महिलाओं एवं सभी वर्गों के लिये बिना किसी भेदभाव के पारदर्शिता के साथ योजनाओं का लाभ प्रदान किया गया है। समग्र एवं सतत विकास के इस माॅडल से उत्तर प्रदेश नये भारत का नया उत्तर प्रदेश बन रहा है। भविष्य में उत्तर प्रदेश की अर्थ व्यवस्था नम्बर एक की अर्थव्यवस्था होगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि गंगा नदी के किनारे बसा कानपुर शहर औद्योगिक नगरी रहा है। कानपुर आजादी की लड़ाई का केन्द्र बिन्दु था। कानपुर नगर अब नयी आभा के साथ देश व प्रदेश में अपनी पहचान कर रहा है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार की नमामि गंगे परियोजना से विभिन्न एस0टी0पी0 का निर्माण कराया गया है। सीसामऊ नाले को टैप कर गंगा नदी में जाने वाले प्रदूषित जल को बन्द कर गंगा जी को निर्मल व अविरल बनाने के साथ कानपुर नगर में फिर से नये-नये उद्योग स्थापित किये जा रहे हैं। 


मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा साढ़े चार वर्ष में बिना किसी भेदभाव के साढ़े चार लाख नौजवानों को निष्पक्ष, पारदर्शी एवं भ्रष्टाचार मुक्त भर्ती व्यवस्था से सरकारी नौकरियां दी हैं। उन्होंने कहा कि ‘एक जनपद एक उत्पाद योजना’ तथा विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के द्वारा प्रदेश में 60 लाख लोगों को रोजगार देने का कार्य किया गया है। प्रदेश में तेेजी से औद्योगिक निवेश के रास्ते खुले है। इसके अन्तर्गत तीन लाख करोड़ रुपये से अधिक के निवेश प्रस्तावों को मूर्त रूप दिया गया है। प्रदेश में कोरोना काल में 66 हजार करोड़ रुपये के निवेश प्रस्ताव प्राप्त हुये। राज्य में उत्तर प्रदेश डिफेन्स इण्डस्ट्रियल काॅरिडोर का निर्माण एवं विकास प्रधानमंत्री की दूरदर्शिता का परिणाम है। इस काॅरिडोर के कानपुर नोड में अत्याधुनिक तोपों का निर्माण किया जायेगा। कानपुर नोड के लिए तीन सौ एकड़ भूमि अधिग्रहित करने की कार्यवाही की गयी है। उन्होंने कहा कि आई0आई0टी0, एच0बी0टी0आई0 व अन्य तकनीकी संस्थाओं को जोड़ते हुए नौजवानों के स्किल डेवलपमेन्ट के साथ रोजगार के अवसर बढ़ाये जाएंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जनसंख्या की दृष्टि से उत्तर प्रदेश देश का सबसे बड़ा प्रदेश है, जिसे समृद्ध व प्रगतिशील बनाने के लिये केन्द्र व प्रदेश सरकार निरन्तर कार्य कर रही हैं। उत्तर प्रदेश में अपराधियों का ठिकाना नहीं है, अपराधी-अपराधी होता है, उसे किसी प्रकार से बख्शा नहीं जायेगा। पेशेवर अपराधियों पर लगाम लगाकर उनके विरुद्ध कड़ी कार्यवाही की जा रही है। सरकार ने जो वादे किये थे उन्हें पूरा करके दिखाया है। वर्तमान सरकार द्वारा गरीब व वंचित लोगों को पेंशन, आवास, शौचालय, रोजगार व सम्मान के साथ विभिन्न योजनाओं का लाभ दिया जा रहा है। पारदर्शी व्यवस्था के साथ प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि का लाभ प्रदेश के किसानों को दिया जा रहा है।


इसके पहले, मुख्यमंत्री ने बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग द्वारा संचालित अन्नप्राशन्न योजना के अन्तर्गत तीन बच्चों को खीर खिलाई तथा खिलौना एवं पोषण किट भेंट की। उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी एवं ग्रामीण) के लाभार्थियों को आवास की प्रतीकात्मक चाभी तथा प्रमाण पत्र वितरित किया। प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के लाभार्थियों को 10-10 हजार रुपये के चेक प्रदान किये तथा श्रम विभाग द्वारा संचालित कन्या विवाह सहायता योजना/शिशु मातृत्व हित लाभ योजना के लाभार्थियों को 55-55 हजार रुपये के चेक वितरित किये। उन्होंने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लाभार्थियों को किसान सम्मान निधि की धनराशि के चेक वितरित किये तथा राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन योजना के लाभार्थियों को प्रमाण पत्र भी प्रदान किये।


इस अवसर पर औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना ने कहा कि केन्द्र व प्रदेश सरकार महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए विभिन्न कार्य कर रही है। देश और प्रदेश में कोरोना काल में लोगों को बेहतर इलाज व सुविधायें देकर उनकी जान बचायी गयी। प्रदेश सरकार के इन प्रयासों की पूरी दुनिया एवं विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी प्रशंसा की। गरीबों को सरकार द्वारा निःशुल्क राशन वितरित कराया जा रहा है। इसके साथ ही किसानों को खाद, बिजली, सिंचाई के लिये पानी तथा फसलों का उचित मूल्य एवं किसान सम्मान निधि की धनराशि दी जा रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में औद्योगिक विकास के साथ ही रोजगार के नये अवसरों की व्यवस्था की जा रही है।

इस अवसर पर उच्च शिक्षा राज्य मंत्री नीलिमा कटियार सहित अन्य जनप्रतिनिधगण व शासन-प्रशासन के अधिकारीगण उपस्थित रहे।