होम > शासन

आयकर विभाग ने फार्मा कंपनी के कई ठिकानों पर मारा छापा, 142 करोड़ से अधिक जब्त

आयकर विभाग ने फार्मा कंपनी के कई ठिकानों पर मारा छापा, 142 करोड़ से अधिक जब्त

आयकर विभाग ने हैदराबाद स्थित एक प्रमुख दवा समूह के ठिकानों पर छापा मारकर 142 करोड़ रुपये से अधिक की नकदी जब्त की। छापे मारे गए फार्मास्युटिकल सामग्री (एपीआई) और फॉर्मूलेशन के निर्माण के व्यवसाय में काम कर रहा है। कंपनी के अधिकांश उत्पाद विदेशों जैसे अमेरिका, यूरोप, दुबई और अन्य अफ्रीकी देशों में निर्यात किए जाते हैं।

नई दिल्ली। आयकर विभाग ने हैदराबाद स्थित एक प्रमुख दवा समूह पर तलाशी और जब्ती अभियान चलाया, जहां से उन्होंने 142 करोड़ रुपये से अधिक की नकदी जब्त की। 6 अक्टूबर को छह राज्यों में लगभग 50 स्थानों पर तलाशी अभियान चलाया गया था। इसकी जानकारी वित्त मंत्रालय ने शनिवार को दी।
 

फार्मास्युटिकल समूह इंटरमीडिएट, सक्रिय फार्मास्युटिकल सामग्री (एपीआई) और फॉर्मूलेशन के निर्माण के व्यवसाय में काम कर रहा है। कंपनी के अधिकांश उत्पाद विदेशों जैसे अमेरिका, यूरोप, दुबई और अन्य अफ्रीकी देशों में निर्यात किए जाते हैं।
 

मंत्रालय ने अपने बयान में कहा, "सर्च अभियान के दौरान, ठिकाने की पहचान की गई, जहां खातों की किताबों और नकदी का दूसरा सेट मिला। जांच के दौरान डिजिटल प्रूफ के रूप में पेन ड्राइव, दस्तावेज आदि सबूत जब्त कर लिया गया है।
 
बयान में आगे कहा गया, "इन खोजों के दौरान, फर्जी और गैर-मौजूद संस्थाओं से की गई खरीद के भी सबूत मिले हैं। इसके अलावा, भूमि की खरीद के लिए ऑन-मनी भुगतान के सबूत भी मिले हैं। अन्य कानूनी कंपनी के बही खातों में निजी खर्चे और संबंधित पक्षों द्वारा सरकारी पंजीकरण मूल्य से कम कीमत पर खरीदी गई जमीन जैसे बात भी सामने आई हैं।
 
वित्त मंत्रालय ने बताया कि तलाशी के दौरान कई बैंक लॉकर मिले, जिनमें से 16 लॉकर संचालित हो चुके हैं। तलाशी के परिणामस्वरूप अब तक 142.87 करोड़ रुपये की अस्पष्टीकृत नकदी की जब्ती हुई है और अब तक लगभग 550 करोड़ रुपये की बेहिसाब आय का अनुमान लगाया गया है।

0Comments