होम > शासन

आजादी का अमृत महोत्सव के क्रियान्वयन हेतु पर्यटन एवं संस्कृति राज्यमंत्री की अध्यक्षता में बैठक सम्पन्न

आजादी का अमृत महोत्सव के क्रियान्वयन हेतु पर्यटन एवं संस्कृति राज्यमंत्री की अध्यक्षता में बैठक सम्पन्न

लखनऊ स्थित पर्यटन भवन में ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के अंतर्गत विभिन्न कार्यक्रमों के आयोजन हेतु उत्तर प्रदेश समेत देशभर के कला, साहित्य एवं संस्कृति जगत के विशेषज्ञों एवं संबंधित अधिकारियों की वीडियो कॉंफ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में आजादी की 75वीं वर्षगांठ को रेखांकित करने वाला बृहद आयोजन ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के अंतर्गत प्रस्तावित कार्यक्रमों की रूपरेखा प्रस्तुत की गई एवं साथ ही संबंधित विशेषज्ञों की राय भी ली गई। बैठक में पर्यटन एवं संस्कृति राज्यमंत्री डॉ नीलकंठ तिवारी, प्रमुख सचिव संस्कृति विभाग मुकेश मेश्राम, लोक गायिका पद्मश्री मालिनी अवस्थी समेत विभिन्न विश्वविद्यालयों के प्रतिनिधि, कलाकार एवं जनपदों के अधिकारी सम्मिलित हुए।

बैठक की अध्यक्षता करते हुए पर्यटन एवं संस्कृति राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ0 नीलकंठ तिवारी ने कहा कि ‘जनपद स्तर पर प्रत्येक गांव के भजन-कीर्तन एवं रामलीला मंडलियों की सूची बनायी जाए एवं कार्यक्रमों का डॉक्युमेंटेशन किया जाए।’ साथ ही उन्होंने प्रदेश के स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के घरों को स्मारक संग्रहालय का रूप देने के संबंध में अधिकारियों को संभावनाएं तलाशने, कार्यक्रमों से युवाओं विशेषकर छात्रों को जोड़ने  एवं आजादी के गुमनाम सेनानियों के जीवन पर केंद्रित पुस्तक लेखन को प्रोत्साहित करने के आदेश दिए। उन्होंने यह भी कहा कि ‘इस उत्सव को हमें जनभागीदारी के माध्यम से जनआंदोलन का रूप देना है।’

बैठक के दौरान राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ0 नीलकंठ तिवारी ने सम्बंधित अधिकारियों से प्रयागराज में आयोजित होने वाली बहुभाषीय कवि सम्मेलन, गोरखपुर में प्रस्तावित रंगोत्सव एवं लखनऊ में प्रस्तावित पेंटिंग कार्यक्रम की प्रगति का ब्यौरा लिया।

0Comments