होम > व्यापार और अर्थव्यवस्था

सरकार ने 17 वस्तुओं पर इंपोर्ट ड्यूटी 10 से 20% तक बढ़ाई

व्यापार घाटे और डॉलर के मुकाबले लगातार गिरते रुपये को देखते हुए सरकार ने गुरुवार को संचार के कुछ सामानों पर ड्यूटी 10 फीसदी से 20 फीसदी कर दी है | प्रिंटर सर्किट बोर्ड असेंबली (पीसीबीए) जैसे संचार उपकरणों पर ड्यूटी 10% बढ़ाई गई है।सरकार ने स्थानीय निर्माताओं के लिए संचार उपकरणों में इंपोर्टेड इलेक्ट्रॉनिक गुड्स के इस्तेमाल पर भी रोक लगा दी है।इससे पहले 26 सितंबर को सरकार ने 19 सामानों पर इंपोर्ट ड्यूटी बढ़ाई थी और उसके बाद से ये लगातार दूसरी बार बढ़ोतरी की जा रही है | पिछली बार जिन सामानों पर आयात ड्यूटी सरकार ने बढ़ाई थी उनमें फ्रिज, एसी जैसे उत्पादन शामिल थे | वहीं इस बार जिन सामानों पर बेसिक कस्टम ड्यूटी बढ़ाई है उनमें कई ऐसे सामान हैं जो इलेक्ट्रानिक और मोबाइल कम्यूनिकेशन में काम आते हैं | सरकार ने मोबाइल फोन को असेंबल करने वाले सर्किट बोर्ड पर मिलने वाली छूट को भी हटा दिया है | माना जा रहा है कि गैर जरूरी उत्पादनों के आयात को रोकने के लिए सरकार ने ये कदम उठाया है |

Previous Post
Next Post