होम > भारत

अमित शाह की जम्मू-कश्मीर की 3 दिवसीय यात्रा आज से शुरू, जानिए प्लान

अमित शाह की जम्मू-कश्मीर की 3 दिवसीय यात्रा आज से शुरू, जानिए प्लान

नई दिल्ली। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह तीन दिवसीय दौरे पर 23 अक्टूबर को जम्मू-कश्मीर पहुंचेंगे। अगस्त 2019 में अनुच्छेद 370 को निरस्त करने के बाद से केंद्र शासित प्रदेश का यह उनका पहला दौरा है, जिसने जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा छीन लिया।

 

 

जानिए जम्मू- कश्मीर दौरे के दौरान अमित शाह की संभावित योजना।

 

दिन 1

जम्मू-कश्मीर में अपने पहले दिन, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह श्रीनगर में राजभवन में सुरक्षा और खुफिया प्रमुखों के साथ एक उच्च स्तरीय बैठक की अध्यक्षता करेंगे।

 

इस एकीकृत कमांड मीट में इंटेलिजेंस ब्यूरो के प्रमुख अरविंद कुमार, सीआरपीएफ के महानिदेशक (डीजी) कुलदीप सिंह, राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड के डीजी एमए गणपति, सीमा सुरक्षा बल के डीजी पंकज सिंह, जम्मू-कश्मीर पुलिस के डीजी दिलबाग सिंह, सेना कमांडर, जम्मू पुलिस के महानिरीक्षक और कश्मीर पुलिस के महानिरीक्षक और अन्य अधिकारी मौजूद रहेंगे।

 

 

दिलबाग सिंह के कश्मीर में अल्पसंख्यकों और गैर-स्थानीय लोगों को निशाना बनाने वाले हालिया आतंकी हमलों के साथ-साथ सुरक्षा उपायों पर एक विस्तृत प्रस्तुति देने की उम्मीद है। एक अधिकारी के अनुसार, जम्मू-कश्मीर पुलिस को मजबूत करने और स्पेशल ऑपरेशंस ग्रुप के कर्मियों के लिए बेहतर वेतन की मांग उठाई जाएगी।

 

बाद में, अमित शाह वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संयुक्त अरब अमीरात में श्रीनगर और शारजाह के बीच पहली अंतरराष्ट्रीय उड़ान का उद्घाटन करेंगे। श्रीनगर-शारजाह के लिए सीधी उड़ान शुरू करने की घोषणा केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पिछले महीने अपनी कश्मीर यात्रा के दौरान की थी।

 

जम्मू-कश्मीर में हाल ही में नागरिकों की हत्याओं में मारे गए लोगों के कम से कम तीन परिवारों से मिलने की भी संभावना है। कश्मीरी पंडित माखन लाल बिंदू, सुपिन्दर कौर और 25 वर्षीय सब-इंस्पेक्टर अरशद अहमद मीर के परिवारों से गृह मंत्री मिलने की संभावना है।

 

 

दूसरा दिन

अपने दौरे के दूसरे दिन अमित शाह जम्मू के लिए उड़ान भरेंगे। उनके पार्टी कार्यालय में भाजपा कार्यकर्ताओं से मिलने और फिर भगवती नगर में एक जनसभा करने की संभावना है। वह केंद्र के आउटरीच कार्यक्रम के तहत संभवत: विभिन्न प्रतिनिधिमंडलों से मिलेंगे।

 

अमित शाह श्रीनगर लौटेंगे और फिर जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले के लेथपोरा में सीआरपीएफ ग्रुप सेंटर के लिए उड़ान भर सकते हैं, जहां वह पुलवामा हमले के शहीदों को श्रद्धांजलि देंगे। वह जवानों के साथ समय बिताएंगे और उनके साथ भोजन करने की संभावना है।

 

 तीसरा दिन

केंद्र शासित प्रदेश में अपने अंतिम दिन अमित शाह केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के शहीद जवानों को श्रद्धांजलि देंगे।

 

वह श्रीनगर जाएंगे और शेर-ए-कश्मीर इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर (एसकेआईसीसी) जाएंगे। अमित शाह ऐतिहासिक केंद्र में नागरिक समाज के विभिन्न प्रतिनिधिमंडलों से मिलेंगे और जनसभा करेंगे।

 

इसके बाद SKICC में डल झील के तट पर एक सांस्कृतिक कार्यक्रम होगा, जिसके दौरान प्रसिद्ध सूफी गायक शफी सोपोरी प्रस्तुति देंगे।

 

इंडिया टुडे से बात करते हुए उन्होंने कहा, "मैं प्रदर्शन करने के लिए सम्मानित महसूस कर रहा हूं। हमारा सूफी संगीत शांति का संदेश फैलाता है।"

 

 उसी दिन शाम अमित शाह के दिल्ली वापस जाने की संभावना है।

2021 में अब तक 26 आतंकी हमले में 28 लोगों की मौत, अमित शाह ने दिए जांच के निर्देश

पीएम मोदी से अमित शाह ने की मुलाकात, कश्मीर के हालात की दी जानकारी