होम > भारत

डल झील में नाव की सवारी, जानें पर्यटकों में क्यों छाई मायूसी

डल झील में नाव की सवारी, जानें पर्यटकों में क्यों छाई मायूसी

जम्मू कश्मीर जाने वाले पर्यटकों में डल झील में नाव की सवारी और गुलमर्ग में केबल कार की सवारी करने का काफी क्रेज होता है।


इसी बीच मौसम विभाग ने गुरुवार को एक एडवाइजरी जारी कर किसानों को कृषि कार्यों और पर्यटकों को गुलमर्ग में डल झील पर नाव की सवारी और गुलमर्ग में केबल कार की सवारी से बचने के लिए कहा है। विभाग ने 19 और 20 मई को तेज हवाएं और ओलावृष्टि होने की संभावना जताई है।

मौसम विभाग द्वारा जारी एडवाइजरी में कहा गया है कि 19 मई से 23 मई तक कश्मीर के अधिकांश हिस्सों और जम्मू और लद्दाख डिवीजनों के अलग-अलग स्थानों पर 30-40 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गरज और बिजली के साथ हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है।


एडवाइजरी में कहा गया है कि किसानों को सलाह दी जाती है कि वे उर्वरक के इस्तेमाल और सिंचाई सहित किसी भी तरह के रासायनिक स्प्रे से बचें। लोगों को गुलमर्ग में केबल कार और अन्य झीलों में नाव की सवारी से बचना चाहिए।