होम > भारत

अमरनाथ यात्रा के लिए कड़ी होगी सुरक्षा, 12 हजार अर्धसैनिक बल और ड्रोन करेंगे निगरानी

अमरनाथ यात्रा के लिए कड़ी होगी सुरक्षा, 12 हजार अर्धसैनिक बल और ड्रोन करेंगे निगरानी

अमरनाथ यात्रा की शुरुआत से पहले ही जम्मू कश्मीर प्रशासन ने सुरक्षा के मद्देनजर तैयारियां शुरू कर दी हैं। यात्रा की सुरक्षा के लिए अर्धसैनिक बलों के 12 हजार जवान और जम्मू कश्मीर पुलिस के कर्मी ड्रोन कैमरों की मदद से अमरनाथ यात्रा की सुरक्षा और निगरानी करेंगे।


ये जानकारी 30 जून से शुरू होने जा रही अमरनाथ यात्रा की तैयारियों में जुटे अधिकारियों ने मीडिया को दी है। बता दें कि कोरोना वायरस संक्रमण के कारण यात्रा का आयोजन दो वर्ष बाद हो रहा है।


इस संबंध में केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने दक्षिण कश्मीर में 3,888 मीटर की ऊंचाई पर स्थित पवित्र गुणा की यात्रा के लिए तैयारियों की समीक्षा भी की है। बता दें कि वर्ष 2020 और 2021 में अमरनाथ यात्रा को कोविड 19 संक्रमण के कारण स्थगित किया गया था।


अंतिम बार 2019 में हुआ था आयोजन


बता दें कि इस पवित्र यात्रा का आयोजन अंतिम बार वर्ष 2019 में हुआ था। संविधान के अनुच्छेद 370 के समाप्त होने से पूर्व इस यात्रा को तय समय पर खत्म किया गया था। इन दिनों जम्मू कश्मीर में कई घटनाएं हुई हैं जिसे देखते हुए इस यात्रा के लिए प्रशासन ने काफी सावधानियां बरती हैं।


इस संबंध में अधिकारियों का कहना है कि गृह सचिव ने अर्धसैनिक बलों और जम्मू कश्मीर प्रशासन के शीर्ष अधिकारियों के साथ अमरनाथ यात्रा के लिए सुरक्षा संबंधित तैयारियों की समीक्षा की। पहलगाम और बालटाल यात्रा मार्ग पर पुलिस और अर्धसैनिक बलों की तैनाती की जाएगी।


ड्रोन करेंगे निगरानी


श्रद्धालुओं की सुरक्षा के मद्देनजर ड्रोन कैमरों से यात्रा मार्ग पर नजर रखी जाएगी। इस यात्रा में तीन लाख श्रद्धालुओं के शामिल होने के आसार हैं। अमरनाथ यात्रा का समापन 11 अगस्त को किया जाएगा।