होम > भारत

Haunted Fort: यहां है रहस्यमयी ‘भूतहा किला’, रात को सजती है भूतों की महफिल

Haunted Fort: यहां है रहस्यमयी ‘भूतहा किला’, रात को सजती है भूतों की महफिल

जयपुर: भारत में देवी-देवताओं की काफी गहरी आस्था है। बहुत से लोग बुरी शक्तियों पर यकीन करते हैं, देश में कई ऐसी जगह है जहां पर भूतों और आत्माओं का कब्जा माना जाता है। ऐसे ही कुछ भूतियां स्थलों में सबसे ज्यादा मशहूर है राजस्थान का (Bhangarh Fort) भानगढ़ किला । यहां का किला बहुत प्रसिद्ध है जो 'भूतहा किला' (Haunted Fort) माना जाता है। रात में यहां से घुंघरूओं की आवाज आती है। ऐसा माना जाता है कि रात के समय यहां पर भूतों की महफिल सजती है, जो यहां पर छिपे खजानें की रक्षा करते हैं। इस किले में रात के वक्त पर्यटकों की एंट्री नहीं होती है। सूर्यास्त होते ही यहां पर सन्नाटा छा जाता है। 

जैसे-जैसे शाम ढलती है लोग यहां से वापिस लौटने लगते हैं। रात को यहां से अजीब-अजीब तरह की आवाजें सुनाई देती है। जो इस किले को भूतिया बनाती है। 


भानगढ़ किले का इतिहास


भानगढ़ किले को आमेर के राजा भगवंत दास ने 1583 में बनवाया था। भगवंत दास के छोटे बेटे और मुगल शहंशाह अकबर के नवरत्नों में शामिल मानसिंह के भाई माधो सिंह ने बाद में इसे अपनी रिहाइश बना लिया। माधो सिंह के तीन बेटे थे-


1. सुजान सिंह 

2. छत्र सिंह 

3. तेज सिंह 


माधो सिंह के बाद छत्र सिंह भानगढ़ का शासक हुआ। छत्र सिंह के बेटा अजब सिंह थे। यह भी शाही मनसबदार थे। अजब सिंह ने अपने नाम पर अजबगढ़ बसाये थे। अजब सिंह के बेटा काबिल सिंह और इनके बेटा जसवंत सिंह अजबगढ़ में रहे। अजब सिंह के बेटा हरी सिंह भानगढ़ में रहे। माधो सिंह के दो वंशज औरंग़ज़ेब के समय में मुसलमान हो गये थे। उन्हें भानगढ़ दे दिया गया था। मुगलों के कमजोर पड़ने पर महाराजा सवाई जय सिंह जी ने इन्हें मारकर भानगढ़ पर अपना अधिकार जमाया।


वर्षा ऋतु में बढ़ जाती है किले की खूबसूरती


भानगढ़ का किला चारदीवारी से घिरा है जिसके अंदर प्रवेश करते ही दायीं ओर कुछ हवेलियों के अवशेष दिखाई देते हैं। सामने बाजार है जिसमें सड़क के दोनों तरफ कतार में बनायी गयी दो मंजिली दुकानों के खण्डहर हैं। किले के आखिरी छोर पर दोहरे अहाते से घिरा तीन मंजिला महल है जिसकी ऊपरी मंजिल लगभग पूरी तरह ध्वस्त हो चुकी है। भानगढ़ का किला चारों ओर से पहाड़ियों से घिरा हुआ है चारों ओर पहाड़िया है वर्षा ऋतु में यहां की रौनक देखने को ही बनती है यहां पर चारों तरफ पहाड़ियों पर हरियाली ही हरियाली दिखाई देती है वर्षा ऋतु में यह दृश्य बहुत ही सुंदर हो जाता है भानगढ़ को दुनिया के सबसे डरावनी जगहों में से माना जाता है ऐसा माना जाता है कि यहां पर आज भी भूत रहते हैं आज भी यहां सूर्य उदय होने से पहले और सूर्य अस्त होने के बाद किसी को रुकने की इजाजत नहीं है।