होम > भारत

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने नोखी में सौर परियोजना की आध

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने नोखी में सौर परियोजना की आध

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से 'उज्ज्वल भारत उज्ज्वल भविष्य - पावर @ 2047' की परिणति में भाग लेते हुए जैसलमेर के नोख में 735MW सौर पीवी परियोजना की आधारशिला रखी। इसे भारत की एक ही स्थान पर स्थापित 1000 मेगावाट के साथ सबसे बड़ी घरेलू सामग्री आवश्यकता आधारित सौर परियोजना कहा जाता है जिसमे ट्रैकर सिस्टम के साथ हाई-वॉटेज बाइफेसियल पीवी मॉड्यूल्स को लगाया गया है । इस सौर परियोजना से उत्पादन सितंबर 2023 तक शुरू हो जाएगा। इस कार्यक्रम में नोख सरपंच सुमन चंगानी, एनटीपीसी (उत्तर) के क्षेत्रीय कार्यवाहक निदेशक देवशीष, एनटीपीसी प्रबंधक दीपक पटनाकर और अन्य एनटीपीसी अधिकारी, राजनीतिक नेता, स्थानीय ग्रामीण मौजूद थे।

प्रधान मंत्री ने एक राष्ट्रीय सौर रूफटॉप पोर्टल भी लॉन्च किया जो रूफटॉप सौर संयंत्रों की स्थापना की प्रक्रिया की ऑनलाइन ट्रैकिंग को सक्षम करेगा, जिसमे संयंत्र की स्थापना और निरीक्षण के बाद आवेदनों के पंजीकरण से लेकर आवासीय उपभोक्ताओं के बैंक खातों में सब्सिडी जारी करने तक की जानकारी उपलब्ध होगी।

सभा को संबोधित करते हुए, पीएम मोदी ने कहा कि अगले 25 वर्षों में भारत की प्रगति को गति देने में ऊर्जा और बिजली क्षेत्रों की बहुत बड़ी भूमिका है। उन्होंने कहा कि आज शुरू की गई परियोजनाएं देश के लिए हरित ऊर्जा और ऊर्जा सुरक्षा की दिशा में महत्वपूर्ण कदम हैं।

प्रधानमंत्री ने बताया कि पिछले आठ वर्षों में देश में लगभग 1,70,000 मेगावाट बिजली उत्पादन क्षमता जोड़ी गई है।