होम > भारत

स्पीकर वेंकैया नायडू के विदाई समाहरोह पर टीएमसी सांसद का तंज

स्पीकर वेंकैया नायडू के विदाई समाहरोह पर टीएमसी सांसद का तंज

सदन के स्पीकर वेंकैया नायडू ने बुधवार को पद छोड़ दिया है, अब उनके उत्तराधिकारी जगदीप धनखड़ 11 अगस्त को पद की शपथ लेंगे।

इसी बीच पश्चिम बंगाल में सदन के स्पीकर वेंकैया नायडू पर उनके विदाई समारोह के दौरान तृणमूल कांग्रेस के राज्यसभा सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने कटाक्ष किया। उन्होंने राज्यसभा में जब निवर्तमान उपराष्ट्रपति के विदाई समाहरोह का भाषण दिया जा रहा था, तभी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सीधे शब्दों में कटाक्ष करते हुए वेंकैया नायडू, जोकि अपने उच्च सदन के अध्यक्ष पद के दौरान पूरे कार्यकाल में संभवत: ही कभी हुआ होगा जब उन्हें प्रधानमंत्री से कभी भी एक प्रश्न का जवाब दिलाने के लिए कभी गुजारिश भी करनी पड़ी हो, शायद ही उनके कार्यकाल के दौरान ये कभी भी संभव हुआ।

अपने पूर्ण भाषण के दौरान उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि 20 सितंबर, 2020 का वो दिन जब सदन में कृषि विधेयक बिल पारित हुआ , शायद वो उस समय अपने अधिकार में नहीं थे। टीएमसी सांसद ने वेंकैया नायडू को ईंधन की बढ़ती कीमतों पर भी उनके जोरदार भाषण की याद दिलाई, उस वक्त बीजेपी विपक्ष में में हुआ करती थी।

2 सितंबर 2013 को जब वेंकैया नायडू ने सदन में पेट्रोल-डीजल पर जोशीला भाषण दिया था, आज उनके इसी जोशीले भाषण पर सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने बताया कि नायडू ने उस वक्त 2013 में फोन-टैपिंग के संबंध में भी हस्तक्षेप किया था, लेकिन अध्यक्ष के रूप में उनके कार्यकाल के दौरान उच्च सदन में पेगासस पर कोई चर्चा नहीं हुई।

टीएमसी सांसद ने कहा, 1 मार्च 2013 को आपने सदन में 5-6 मिनट के लिए फोन टैपिंग पर हस्तक्षेप किया था, हमने पिछले कुछ वर्षों में पेगासस पर चर्चा करने की कोशिश की, लेकिन हमें उस वक्त मौका नहीं मिला।