होम > भारत

आंध्र प्रदेश-ओडिशा के तट पर चक्रवात 'जवाद' का खतरा, पीएम मोदी ने दिए निर्देश

आंध्र प्रदेश-ओडिशा के तट पर चक्रवात 'जवाद' का खतरा, पीएम मोदी ने दिए निर्देश

नई दिल्ली: भीषण बारिश के बाद अब आंध्र प्रदेश और ओडिशा पर चक्रवाती तूफान 'जवाद' (Cyclone Jawad) का खतरा मंडरा रहा है। बंगाल की खाड़ी में बने कम दबाव के क्षेत्र के कारण यह चक्रवात पैदा हुआ है। IMD ने चक्रवात के 4 दिसंबर को आंध्र प्रदेश और ओडिशा के तट से टकराने की भविष्यवाणी की है। प्रधानमंत्री मोदी ने ‘जवाद’ को लेकर समीक्षा बैठक की है। 


भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अनुसार, बंगाल की खाड़ी में बना कम दबाव का क्षेत्र 3 दिसंबर को चक्रवात ‘जवाद’ में तब्दील हो जाएगा। इसके 4 दिसंबर की सुबह तक आंध्र प्रदेश और ओडिशा के तटों को पार करने की उम्मीद है।


प्रधानमंत्री मोदी ने चक्रवाती तूफान ‘जवाद’ को लेकर समीक्षा बैठक में विभिन्न केंद्रीय और राज्य एजेंसियों को किसी भी तरह के जानमाल के नुकसान से बचने और संपत्ति, बुनियादी ढांचे और फसलों को नुकसान से बचाने के लिए आवश्यक कदम उठाने के निर्देश दिए हैं।


भारी बारिश के दौर के बाद अब आंध्र प्रदेश और ओडिशा पर चक्रवात 'जवाद' का खतरा मंडरा रहा है। बंगाल की खाड़ी में बने कम दबाव के क्षेत्र के कारण यह चक्रवात पैदा हुआ है। IMD ने चक्रवात के 4 दिसंबर को आंध्र प्रदेश और ओडिशा के तट से टकराने की भविष्यवाणी की है।