होम > भारत

सांसदों के निलंबन के बाद आज सदन में हंगामे के आसार

सांसदों के निलंबन के बाद आज सदन में हंगामे के आसार

राज्यसभा ने शीतकालीन सत्र के पहले दिन 12 सदस्यों को वर्तमान में जारी सत्र से निलंबित किया। विपक्ष ने इस फैसले की कड़ी निंदा की है। वहीं संभावना है कि सदन की कार्रवाई मंगलवार को शुरु होते ही सदन में विपक्ष द्वारा जोरदार हंगामा किया जा सकता है।


माना जा रहा है कि सुबह 10 बजे विपक्ष भी इस संबंध में बैठक कर रणनीति तैयार करने वाला है। दरअसल सोमवार को शीतकालीन सत्र के पहले दिन 12 सदस्यों के खिलाफ मॉनसून सत्र में अनुशासनहीनता फैलाने के आरोप में कार्रवाई की गई है।


सदन से निलंबित किए गए सांसदों में शिवसेना सांसद प्रियंका चतुर्वेदी, तृणमूल कांग्रेस सांसद डोला सेन भी शामिल है। सदन में लिए गए इस फैसले का कांग्रेस व अन्य विपक्षी दलों ने जमकर विरोध किया है। विपक्षी दलों का कहना है कि सरकार के इस फैसले के खिलाफ आगे की रणनीति तय करने के लिए बैठक होगी।


गौरतलब है कि कांग्रेस, समाजवादी पार्टी, शिवसेना समेत अन्य सभी दलों ने सांसदों के निलंबन को लेकर संयुक्त बयान जारी कर इस कदम की निंदा की है। उनका कहना है मॉनसून सत्र की दुर्भाग्यपूर्ण घटना को लेकर सांसदों को निलंबित करने के लिए सरकार की ओर से लाया गया प्रस्ताव अप्रत्याशित और राज्यसभा के कामकाज व प्रक्रियाओं से संबंधित नियमों का उल्लंघन है।


आज हैं हंगामे के आसार


सासंदों के निलंबन के बाद विपक्षी दलों कहना है कि राज्यसभा में अलग अलग दलों के नेताओं की बैठक होगी। इसमें सरकार के अधिनायकवाद फैसले का विरोध करने और संसदीय लोकतंत्र की रक्षा के लिए आगे उठाए जाने वाले कदम पर चर्चा होगी। संभावना है कि निलंबन को लेकर विपक्ष सदन में हंगामा कर सकता है। हंगामे के कारण सदन की कार्रावई में फिर से असर पड़ सकता है।