होम > नौकरियां

डीयू में सहायक प्रोफेसर पद के लिए पीएचडी की अनिवार्यता खत्म, नियुक्ति हुई शुरू

डीयू में सहायक प्रोफेसर पद के लिए पीएचडी की अनिवार्यता खत्म, नियुक्ति हुई शुरू

नई दिल्ली| दिल्ली विश्वविद्यालय के कॉलेजों और विभागों में सहायक प्रोफेसर के पदों पर स्थायी नियुक्तियां की जानी है। विश्वविद्यालय की ओर से कुल 251 पदों के लिए विज्ञापन निकाला गया है। इससे पहले विश्वविद्यालय प्रशासन ने जो विज्ञापन निकाला था उसमें सहायक प्रोफेसर के पदों के लिए पीएचडी की अनिवार्यता शर्त रखी गई थीं। नए विज्ञापन में यूजीसी द्वारा पीएचडी के लिए छूट दे दी गई है।


आवेदन करने की अंतिम तिथि 30 नवम्बर 2021 रखी गई है। साथ ही उसमें दिया गया लिंक नहीं खुला था, इस वजह से शिक्षक संगठनों के लिखने के बाद फिर से विज्ञापन निकाला है। विश्वविद्यालय प्रशासन ने आवेदनकतार्ओं के लिए लिंक दे दिया है। पीएचडी से छूट के आधार पर विभिन्न विभागों में पढ़ा रहे शिक्षकों में खुशी का माहौल देखा जा सकता है।


दिल्ली टीचर्स एसोसिएशन ( डीटीए ) के अध्यक्ष डॉ.हंसराज सुमन ने बताया है कि डीटीए का प्रतिनिधि मंडल नए कुलपति प्रोफेसर योगेश सिंह से मिला था। उनको बताया गया था कि विभागों के लिए सहायक प्रोफेसर के लिए जो विज्ञापन निकाला गया है उसमें जुलाई 2021 से पीएचडी अनिवार्य की है । हालांकि, नए विज्ञापन में पीएचडी की छूट दे दी गई है।


प्रोफेसर सिंह ने कहा था कि विश्वविद्यालय अनुदान आयोग ( यूजीसी ) ने जो छूट दी उस छूट के आधार पर नया विज्ञापन आएगा । उन्होंने कहा था कि लंबे समय से 5000 कॉलेज शिक्षकों की नियुक्तियों के लिए भी जल्द ही विज्ञापन निकाले जाएंगे। उन्होंने बताया था कि जल्द ही इन पदों को भरने के लिए पहले प्रिंसिपलों के खाली पड़े पदों को स्थायी प्रिंसिपलों से भरा जाएगा ,उसके बाद कॉलेजों में सहायक प्रोफेसर के पदों के विज्ञापन निकाले जाएंगे।


नए विज्ञापन के अनुसार सहायक प्रोफेसर के 251 पदों में सामान्य 90 ,एससी 38 ,एसटी 20 , ओबीसी 69 ,ईडब्ल्यूएस 25 ,पीडब्ल्यूडी 09 पदों के लिए विश्वविद्यालय प्रशासन ने विज्ञापन जारी किया गया है।


विश्वविद्यालय इन पदों को भरने के लिए कई बार विज्ञापन निकाल चुका है । पिछले साल कुछ विभागों में सहायक प्रोफेसर के पदों पर नियुक्ति की गई थीं उसके बाद कॉलेज शिक्षकों की प्रमोशन की गई जो अभी तक कॉलेजों में जारी है। आशा जताई जा रही है कि दिसंबर या नए साल में इन पदों को भरने की शुरूआत हो सकती है।


विश्वविद्यालय से सम्बद्ध जिन विभागों में सहायक प्रोफेसर के पदों के लिए विज्ञापन निकाले है ,उन पदों पर आवेदन करने वाले अभ्यर्थियों से कहा गया है कि जो इन पदों के लिए पहले आवेदन कर चुके है वे फिर से आवेदन न करें। जैसे ही कोई अभ्यर्थी उस लिंक पेज पर जाएगा और अपनी मेल आईडी डालेगा उस पेज को अपडेट्स कर सकता। इसके लिए आवेदनकर्त्ता से किसी तरह की कोई फीस नहीं ली जाएगी।