होम > अन्य

पीपल के पेड़ का महत्व

पीपल के पेड़ का महत्व

आइये जानते है पीपल के पेड़ में कौन से देवता निवास करते है ,पीपल के जड़ में विष्णु, तने में केशव, शाखाओं में नारायण, पत्तों में भगवान हरि और फल में सभी देवता निवास करते हैं। इसलिए इसे साक्षात् विष्णु स्वरूप बताया गया है। पीपल के पेड़ को पानी देने से व्यक्ति के लिए शुभ मन जाता है, पीपल की पूजा करने से न केवल पुण्य की प्राप्ति होती है बल्कि पितरों का भी आशीर्वाद मिलता है। वैज्ञानिकों ने भी इस वृक्ष को अनूठा बताया है, जो 24 घंटे ऑक्सीजन छोड़ता है, जो मनुष्यों के लिए बहुत जरूरी है।

अगर आपको शत्रु परेशान कर रहा है, तो पीपल के वृक्ष के नीचे बैठ कर हनुमान चालीसा का भी पाठ जरूर करें,इस तरह से आपको आपके शत्रुओं से जुड़ी सभी परेशानियों से मुक्ति मिलेगी साथ ही हनुमान चालीसा का पाठ करने से आपके शत्रुओं का नाश होता है।

पीपल के पेड़ और इसकी पत्तियों के कई गुण होते है, पीपल के प्रयोग से रंग में निखार आता है, घाव, सूजन, दर्द से आराम मिलता है। पीपल खून को साफ करता है। पीपल की छाल मूत्र-योनि विकार में लाभदायक होती है। पीपल की छाल के उपयोग से पेट साफ होता है।

घर में पीपल के पेड़ होना या पीपल के पेड़ की छाया पड़ना अशुभ माना जाता है, इससे घर परिवार के सदस्यों की तरक्की में बाधा आती है और घर पर आर्थिक संकट आ सकता है, ऐसे में यदि आपके घर में भी पीपल का पेड़ उग गया है तो रविवार के दिन आप पीपल के पेड़ की पूजा करके उसे कटवा सकते हैं।