होम > अन्य

आइये जानते है चांदी की पायल पहनने के फायदे

आइये जानते है चांदी की पायल पहनने के फायदे

आइये जानते है महिलाएं पैरों में क्यों पहनती है पायल ,

आप लोगो को पता होगा की महिलाएं पायल अपने पैरों में पहनती हैं, इससे सुंदरता के साथ-साथ कई तरह के स्वास्थ्य लाभ भी मिलते है,अगर बात करें चांदी के पायल की तो यह सकारात्मक ऊर्जा, ब्लड सर्कुलेशन को बनाए रखने और मासिक धर्म के दर्द को कम करने में मदद करती है।

पायल का महत्व जैसा की आप लोग को जानकारी होनी चाहिए पायल पैरों से निकलने वाली शारीरिक विद्युत ऊर्जा को शरीर में संरक्षित रखती है। पायल महिलाओं के पेट और निचले अंगों में वसा (फैट) बढ़ने की गति को रोकती है। वास्तु के अनुसार पायल की छनक निगेटिव ऊर्जा को दूर करती है।पायल में घुंघरू होते हैं जिनसे निकलने वाली आवाज से सकारात्मक ऊर्जा पैदा होती है, ऐसा माना जाता है कि पायल महिलाओं की सुरक्षा भी करती है, क्योंकि यह दैवीय शक्तियों को अपनी ओर आकर्षित करती है।

चांदी की पायल पैरों से घर्षण करके पैरों की हड्डियां मजबूत बनाती हैं।चांदी एक प्रतिक्रियाशील धातु है और यह पृथ्वी की ऊर्जा के साथ अच्छी प्रतिक्रिया करती है। चांदी की पायल भारतीय महिलाओं द्वारा इसके कई लाभों के लिए उपयोग की जाती हैं। चांदी की पायल रक्त परिसंचरण को बनाए रखने और मासिक धर्म के दर्द को कम करने में मदद करती है ।

चांदी की पायल पहनने से  पैरों में होने वाली सूजन से भी आराम मिलता है,हमारी अधिकांश ऊर्जा हाथों और पैरों के जरिए शरीर से निकल जाती है,जिससे थकान महसूस होती है, चांदी एक प्रतिक्रियाशील धातु है और यह शरीर से निकलने वाली ऊर्जा को वापस खींच लेती है।

पायल पैरों से निकलने वाली शारीरिक विद्युत ऊर्जा को शरीर में संरक्षित रखती है। पायल महिलाओं के पेट और निचले अंगों में वसा (फैट) बढ़ने की गति को रोकती है। वास्तु के अनुसार पायल की छनक निगेटिव ऊर्जा को दूर करती है। चांदी की पायल पैरों से घर्षण करके पैरों की हड्डियां मजबूत बनाती हैं।