होम > अन्य

मेहंदी का महत्व

मेहंदी का महत्व

आइये जानते है आज मेहंदी का महत्व

हाथों और पैर के तलवों में मेहंदी लगाने से शरीर की गर्मी कम होती है गर्मियों में अधिकतर लोग मेहंदी लगाना पसंद करते है। इसके अलावा मेहंदी के ताजे पत्तों को तोड़कर साफ पानी में भिगो दें और रात भर रखने के बाद इसे सुबह छानकर पिएं। यह प्रयोग भी शरीर की गर्मी को दूर करने में मददगार है।इसके अलावा मेहंदी लगाने से शरीर को ठंडक भी मिलती है।

मेहंदी लगाने से मानसिक तनाव भी कम होता है,मेहंदी की महक और रंग लोगो को ख़ुशी महसूस होती  है, ऐसे में तनाव को कम करने के लिए आप मेहंदी लगा सकती है।

मेहंदी लगाने की विधि हाथों पर मेहंदी लगाने से पहले मेहंदी का तेल ज़रूर लगाएं। इससे मेहंदी का रंग निखर के आता है। आपने कई मेहंदी लगाने वालों को भी मेहंदी लगाने से पहले इसका इस्तेमाल कीजिये । आप भी मेहंदी का तेल लगाएं इससे मेहंदी अच्छी रचेगी।

मेहंदी लगाने के बाद उसे कुछ घंटों के लिए लगे रहने दें उसे निकाले नहीं, मेहंदी को अपने आप निकलने दें, 5 घंटे तक मेहंदी को हाथ पर लगे रहने दें, अल्बा रचनी मेहँदी (हाथों के लिए) बेहतरीन हाथ से चुनी हुई मेंहदी के पत्तों का उपयोग करके बनाई गई है, जो इसे एक आदर्श प्राकृतिक रंग एजेंट बनाती है। यह अस्थायी टैटू का एक प्राकृतिक और दर्द रहित रूप है, क्योंकि यह आपके हाथों और पैरों पर बने डिजाइनों को एक गहरा रंग और एक सुंदर रूप प्रदान करता है।