होम > अन्य

15 अगस्त का क्या महत्व है

15 अगस्त का क्या महत्व है

15 अगस्त 2022 को भारत की आजादी के 75 वर्ष पूरे हुए,इस विशेष अवसर को 'आजादी के अमृत महोत्सव' (Azadi Ka Amrit Mahotsav) के रूप  में पूरे देश में बड़े धूमधाम से सेलिब्रेट किया जाएगा, 15 अगस्त 1947 को भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू ने दिल्ली में लाल किले के लाहौरी गेट पर भारतीय राष्ट्रीय ध्वज फहराया था। 

15 अगस्त 1947 को हिंदुस्तान ने 200 साल के ब्रिटिश औपनिवेशिक शासन से आजादी हासिल की,स्वतंत्रता सेनानी के विशाल साहस और बलिदान ने 15 अगस्त 1947 को अंग्रेजों को देश छोड़ने पर मजबूर कर दिया ,भारत में स्वतंत्रता दिवस 15 अगस्त को मनाया जाता है, इस दिन पूरे देश में देशभक्ति का माहौल रहता है क्योंकि यही वह दिन है जिस दिन हमें ब्रिटिश शासन से आजादी मिली थी, यह भारत के सबसे बड़े देश  भक्ति दिवसों में से एक है, दरअसल में ये वो दिन हैं जो हमारे फ़्रीडम फाइटर्स के त्याग और तपस्या की याद दिलाता है। 

स्वतंत्रता दिवस भारत के नागरिकों के लिए विशेष महत्व रखता है।स्वतंत्रता का अर्थ है बिना किसी नियंत्रण या बंधन के देश के प्रत्येक व्यक्ति को स्वेच्छानुसार काम करने का अधिकार मिलना और सबको ऊँच-नीच, जाति-पाति से रहित समानता का दर्जा प्राप्त होना। प्रत्येक व्यक्ति को अपने विचार खुलकर व्यक्त करने की आजादी मिलना तथा समाज का शोषण मुक्त होना।

रविन्द्रनाथ टैगोर जी ने भारत का राष्ट्रगान 'जन गण मन' बंगाली भाषा में लिखे थे,भारत का राष्ट्रीय गीत 'वंदे मातरम्' है और इसके रचयिता बंकिमचंद्र चट्टोपाध्याय हैं।

ध्वज में केसरिया रंग 'शक्ति और साहस' का, सफेद रंग शांति और सच्चाई का और हरा रंग धरती की उर्वरता, वृद्धि और शुभता का प्रतीक है तथा बीच में बना अशोक चक्र यह दर्शाता है कि 'गति में जीवन है और स्थायित्व में मृत्यु' और यह जीवन की गतिशीलता का संदेश देता है, अशोक चक्र में कुल 24 तीलियां होती हैं। इसकी 24 तीलियां मनुष्य के 24 गुणों को दर्शाने का काम करती हैं। इन 24 गुणों को धर्म मार्ग भी कहा जाता है।

देश में स्वतंत्रता दिवस समारोह मुख्य रूप से लाल किले पर मनाया जाता है। 
सभी भारतीयों देश के सम्मान में तिरंगे को सलाम (Salute) करते हैं। 
पूरे भारत में आजादी की ख़ुशी और शहीदों के सम्मान में ध्वजारोहण किया जाता है, यह हमें स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान की याद दिलाता है।
इस अवसर पर लोग राष्ट्रगान एवं राष्ट्रगीत गाते हैं।
यह स्वतंत्रता के लिए राष्ट्र के संघर्ष की याद दिलाता है ।
राष्ट्रीय ध्वज देश के गौरव का प्रतीक होता है। 
राष्ट्र का झंडा उस देश की अखंडता को प्रदर्शित करता है। 
राष्ट्रीय ध्वज लोगों में देशभक्ति की भावना को प्रेरित करता है।