होम > खेल

राष्ट्रमंडल खेलों में 200 स्वर्ण पदक जीतने वाला चौथा देश बना भारत

राष्ट्रमंडल खेलों में 200 स्वर्ण पदक जीतने वाला चौथा देश बना भारत

भारत ने वास्तव में पिछले कुछ वर्षों में अंतरराष्ट्रीय खेल टूर्नामेंटों में अपने प्रदर्शन को बेहतरीन किया है, और हाल ही में संपन्न टोक्यो ओलंपिक, भी चल ही रहा हैं।  राष्ट्रमंडल खेल 2022, इसका स्पष्ट प्रमाण हैं। बर्मिंघम में आयोजित राष्ट्रमंडल खेलों में भारत अब तक 61 पदक जीतने में सफल रहा है, जिसमें 22 स्वर्ण, 16 रजत और 23 कांस्य पदक शामिल हैं।

भारत की पदक तालिका में भारोत्तोलन और कुश्ती, दो सबसे अधिक योगदान देने वाले खेल के रूप में उभरे हैं, कुश्ती में हमारे खिलाडियों  ने कुल 12 पदक लाए हैं और भारोत्तोलन में  10 सीडब्ल्यूजी पदक प्रदान किए हैं। राष्ट्रमंडल खेलों के इतिहास में, देश ने कुल 22 स्वर्ण पदक जीतकर एक प्रभावशाली रिकॉर्ड बनाया है, जो अब तक का सबसे अधिक है।

राष्ट्रमंडल खेलों के इतिहास में 200 स्वर्ण पदक जीतने  वाला भारत चौथा देश बन गया है। इससे पहले सिर्फ ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और कनाडा ने ही यह रिकॉर्ड बनाया था। एक तुलनात्मक नोट पर, ऑस्ट्रेलिया के पास 981 स्वर्ण पदक हैं, इंग्लैंड के पास 754 स्वर्ण हैं, जबकि कनाडा के पास कुल 501 स्वर्ण पदक हैं।

भारतीय दल ने बर्मिंघम में चल रहे राष्ट्रमंडल खेलों में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया है, टूर्नामेंट के समापन दिन तक पदक तालिका 50 को पार कर गई है।दिलचस्प बात यह है कि कुश्ती और भारोत्तोलन के अलावा, भारतीय एथलीटों ने मुक्केबाजी स्पर्धाओं में भी 7 पदक जीते।