होम > खेल

क्या टी20 वर्ल्ड कप में इतिहास रचेगा भारत

क्या टी20 वर्ल्ड कप में इतिहास रचेगा भारत

आप सभी क्रिकेट प्रेमियों को पता है कि 16 अक्टूबर 2022 से ऑस्ट्रेलिया में टी20 वर्ल्ड कप शुरू होने वाला हैं। जिसके के लिए बीसीसीआई ने हाल ही में टी20 वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम का ऐलान कर दिया हैं। भारत को एशिया कप में मिली हार के बाद टी20 वर्ल्ड कप के लिए चुनी गई टीम में कुछ बदलाव किये गए हैं। इस बार भारतीय टीम पुरे दम ख़म के साथ रोहित शर्मा की अगुवाई में टी20 वर्ल्ड कप में इतिहास रचने के लिए उतरेंगी। लेकिन जिस तरह से पिछले कुछ मैचों में भारतीय टीम का प्रदर्शन काफी निराशजनक रहा है। उसको देख कर नहीं लगता हैं। कि भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया में टी20 वर्ल्ड में कुछ खास प्रदर्शन कर पायेंगी।


अगर पिछले साल यानि 2021 के टी20 वर्ल्ड की बात करे। तो भारतीय टीम सेमीफाइनल में भी नहीं पहुंच पाई थीं। 2021 के टी20 वर्ल्ड की अगुवाई बतौर कप्तान विराट कोहली और एक अच्छे कोच के रूप में रवि शास्त्री ने की थीं। विराट कोहली और रवि शास्त्री की जोड़ी ने टी20 वर्ल्ड- 2021 में खास प्रदर्शन नहीं कर पाई थीं। उसके बाद भारतीय टीम में एक बड़ा बदलाव देखने को मिला था । यानि बतौर कोच राहुल द्रविड़ और बतौर कप्तान रोहित शर्मा को भारतीय टीम की कमान मिली। पिछले कुछ  ट20 मैचों में  कोच राहुल द्रविड़ और कप्तान रोहित शर्मा ने एक शानदार ओपनिंग जोड़ी के लिए बहुत प्रयोग किए । जिसमें सूर्यकुमार यादव, ईशान किशन, विराट कोहली, केएल राहुल, रोहित शर्मा, आदि खिलाड़ियों ने टी20 मैच में ओपनिंग की। लेकिन कोई भी जोड़ी सफल नहीं पाई।


अब आगामी 16 अक्टूबर 2022 से ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 वर्ल्ड कप के लिए बतौर कोच राहुल द्रविड़ और बतौर कप्तान रोहित शर्मा ने क्या आक्रामक रणनीति बनाई हैं। बतौर कोच राहुल द्रविड़ की रणनीति ऐसी हैं। जो शायद लॉन्ग टर्म में टीम इंडिया को फायदा पहुंचा सकती हैं। लेकिन अभी टी-20 वर्ल्डकप सिर पर हैं। तो पहले कुछ ऐसी आक्रामक रणनीति बनाने की जरुरत हैं। जिससे टी20 वर्ल्ड कप 2022 में भारतीय टीम को सफलता मिले।  क्रिकेट प्रेमियों को   कोच राहुल द्रविड़ और  कप्तान रोहित शर्मा पर पूरा भरोसा हैं।  


भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने एशिया कप मैच के दौरान कहा था। कि द्विपक्षीय सीरीज में हम एक टीम के खिलाफ खेलते हैं।  तो कमबैक करने का मौका रहता है।  क्योंकि प्लान बदला जा सकता है।  लेकिन जब आप मल्टीनेशनल टूर्नामेंट खेलते हैं। तो हर दिन एक नई टीम सामने होती है जहां हर दिन नई रणनीति भी चाहिए। यहां पर हम कैसे सुधार कर सकते हैं। इसपर हमें काम करना होगा।