होम > खेल

हेदर नाइट बोलीं हमें मांकडिंग आउट करने से पहले चेतावनी नहीं मिली

हेदर नाइट बोलीं हमें मांकडिंग आउट करने से पहले चेतावनी नहीं मिली

भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने इंग्लैंड को तीसरे मैच में 16 रन से हरा दिया। इस  जीत से  भारतीय महिला टीम ने सीरीज पर 3 -0 से कब्ज़ा कर लिया।  लेकिन इस जीत से अलग चर्चा चार्ली डीन के आउट होने की जा रही है । भारतीय स्पिनर दीप्ति शर्मा ने जिस तरीके से डीन को आउट किया उसे मांकडिंग करना कहते हैं।  मांकडिंग करने से पहले खिलाड़ी को चेतावनी दी जाती है की, अगर वो बार बार गेंद डालने से पहले क्रीज से बाहर निकलता है तो उसे आउट कर दिया जायेगा।  दीप्ति ने कहा कि भारतीय टीम के द्वारा इंग्लैंड को पहले बताया गया था।

दीप्ति से वापस लौटने के बाद इस बारे में बात की गयी तो उन्होंने कहा कि -इंग्लैंड की खिलाड़ी बार-बार गेंद डालने से पहले ही रन के लिए दौड़ पड़ रही थी। इस बारे में टीम ने अंपायर से भी शिकायत की थी, लेकिन जब इंग्लिश बल्लेबाज नहीं मानी तो फिर तो हमने  उन्हें आउट कर दिया। इस तरह से आउट करना गलत नहीं है यह पूरी तरह नियमो के अनुसार ही है ।

दीप्ति के इस जबाब के बदले में हेदर ने ट्विटर पर एक पोस्ट लिखी  'मैच खत्म हो गया है। चार्ली को आउट दे दिया गया था। भारतीय टीम मैच और सीरीज दोनों जीतना डीजर्व करती है, लेकिन कोई भी वार्निंग टीम इंडिया की ओर से नहीं दी गई थी। उन्हें लगा होगा वार्निंग देने की आवश्यकता नहीं है। अगर वे रन आउट के फैसले से सहज हैं तो भारत को वार्निंग के बारे में झूठ बोलकर इसे सही ठहराने की आवश्यकता महसूस नहीं होनी चाहिए।'

वैसे मांकडिंग आउट का नियम 1 अक्टूबर से खत्म होने वाला है। ICC ने इसे अमान्य कर दिया है। मांकडिंग को अब रन आउट के नाम से ही जाना जायेगा।