होम > खेल

India Open Badminton: विश्व चैंपियन को दी मात, Satwik और Chirag की जोड़ी ने जीता खिताब

India Open Badminton: विश्व चैंपियन को दी मात, Satwik और Chirag की जोड़ी ने जीता खिताब

नई दिल्ली | भारत के सात्विक रेड्डी और चिराग शेट्टी ने रविवार को यहां इंडिया ओपन ( India Open Badminton ) 2022 के फाइनल में तीन बार के विश्व चैंपियन हेंड्रा सेतियावान और मोहम्मद अहसान को 21-16, 26-24 से हराकर पुरुष युगल खिताब को अपने नाम कर लिया।


शीर्ष भारतीय जोड़ी के लिए यह उनका दूसरा बीडब्ल्यूएफ वल्र्ड टूर सुपर 500 खिताब था। इससे पहले, दोनों ने थाईलैंड ओपन 2019 में चीन के ली जुन्हुई और लियू युचेन को 21-18, 18-21, 21-19 से हराया था। महिला एकल के फाइनल में थाईलैंड की दूसरी वरीयता प्राप्त बुसानन ओंगबामरुं गफान ने अपनी हमवतन सुपनिदा कटेथोंग को 22-20, 19-21, 21-13 से हराकर प्रतिष्ठित खिताब जीता।


यहां दूसरी वरीयता प्राप्त की रेड्डी और शेट्टी की जोड़ी ने पहली वरीयता प्राप्त इंडोनेशियाई जोड़ी पर हमला करते हुए पहला गेम 21-16 से अपने नाम किया। पहला गेम में भारतीय जोड़ी ने शुरुआती बढ़त (3-1) ले ली, इससे पहले कि इंडोनेशियाई स्कोर 4-4 और 7-7 से बराबर हो गया, क्योंकि दो जोड़े आमने-सामने थे। इसके बाद, भारतीय जोड़ी ने 18-13 की बढ़त बनाने के लिए लगातार पांच अंक जीतकर पहला गेम 21-16 से जीत लिया।


पहला सेट हारने के बाद इंडोनेशियाई खिलाड़ियों ने कई गलतियां कीं, लेकिन फिर से संगठित होकर जोरदार वापसी की और स्कोर 20-20 से बराबर कर लिया। लेकिन 43 मिनटों तक चले मैच में भारतीय जोड़ी ने अंतिम क्षण में अपना उत्साह बनाए रखा और उन्होंने मैच और खिताब जीतने के लिए नेट कॉर्ड से जीत का अंक हासिल कर लिया।


सात्विक रेड्डी ( Satwik Reddy ) ने कहा, हम जानते थे कि वे थके हुए हैं और गलतियां करेंगे। इसलिए, हमने चीजों को एक स्तर पर बनाए रखा, जिससे यह काम कर गया। वहीं चिराग शेट्टी ( Chirag Shetty ) ने कहा, मुझे लगता है कि जिस तरह से हमने दबाव को संभाला और दूसरे गेम के अंतिम चरण में खुद को शांत किया वह वास्तव में अच्छा था, जिससे हमें मैच में जीत मिली।


इससे पहले, थाईलैंड की दूसरी वरीयता प्राप्त बुसानन ओंगबामरुंगफान को हमवतन सुपनिदा कटेथोंग को 22-20, 19-21, 2-13 से हराकर महिला एकल का खिताब अपने नाम किया।


थाईलैंड की बेन्यापा और नुंतकर्ण एम्सार्ड ने रूस की अनास्तासिया अक्चुरिना और ओल्गा मोरोजोवा को 21-13, 21-15 से हराकर महिला युगल खिताब जीता, जबकि ही योंग काई टेरी और टैन वेई हान की सिंगापुर की पति-पत्नी की जोड़ी ने मिश्रित युगल के फाइनल में मलेशिया की तीसरी वरीयता प्राप्त चेन टैंग जी और पेक येन को 21-15, 21-18 से हराया।