होम > खेल

IND vs SA 2nd ODI: भारत ने साउथ अफ्रीका को दिया 288 रनों का लक्ष्य, ऋषभ पंत की खेली शानदार पारी

IND vs SA 2nd ODI: भारत ने साउथ अफ्रीका को दिया 288 रनों का लक्ष्य, ऋषभ पंत की खेली शानदार पारी

पार्ल | ऋषभ पंत (85) की शानदार पारी की बदौलत यहां बोलैंड पार्क में खेले जा रहे दूसरे मैच में भारत ने साउथ अफ्रीका ( India vs South Africa ) को 288 रनों का लक्ष्य दिया। टॉस जीतकर बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम ने 50 ओवरों में छह विकेट के नुकसान पर 287 रन बनाए। कप्तान केएल राहुल और पंत के बीच 111 गेंदों में 115 रनों की साझेदारी हुई। साउथ अफ्रीका की ओर से सबसे ज्यादा तबरेज शम्सी ने दो विकेट चटकाए। वहीं, एंडिले फेहलुकवायो, एडेन मार्करम, केशव महाराज और सिसांडा मगला ने एक-एक विकेट अपने नाम किया।


इससे पहले, टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम की अच्छी शुरुआत होने की बावजूद दो विकेट जल्दी गिर गए, क्योंकि सलामी बल्लेबाज कप्तान राहुल और शिखर धवन ने बेहतरीन शुरुआत करते हुए 70 गेंदों में 63 रनों की साझेदारी की, लेकिन मार्करम की गेंद पर धवन 29 रन बनाकर आउट हो गए।


इसके बाद आए विराट कोहली भी बिना खाता खोले ही महाराज की गेंद पर टेम्बा बावुमा को कैच दे बैठे, जिसके बाद भारत का स्कोर 13वें ओवर में दो विकेट के नुकसान पर 64 रन हो गया। चौथे नंबर पर आए ऋषभ पंत ने कप्तान राहुल के साथ मिलकर भारत के स्कोर को 20वें ओवर में 100 के पार पहुंचा दिया।


इस बीच, पंत ( Rishabh Pant ) ने तेज गति से रन जोड़े हुए 43 गेंदों में अपना चौथा अर्धशतक पूरा कर लिया। बीच के ओवरों में कप्तान राहुल और पंत अफ्रीकी गेंदबाजों पर हावी नजर आ रहे थे। वहीं, 27वें ओवर में कप्तान राहुल का दूसरा कैच छोड़ दिया। इसके बाद, कप्तान राहुल ने भी अपना 10 वां अर्धशतक पूरा कर लिया है, जिससे 29 ओवरों के बाद भारत का स्कोर दो विकेट पर 167 रन पहुंच गया। दोनों के बीच अब तक 103 रनों की साझेदारी हो चुकी थी।


लंबी होती इस साझेदारी को सिसांडा मगला ने तोड़ा, जब राहुल (55) को डूसन के हाथों कैच आउट कराया। कुछ देर बाद, पंत भी 10 चौके और दो छक्कों की मदद से 85 रन बनाकर शम्सी की गेंद पर पवेलियन लौट गए। इस समय तक भारत का स्कोर 32.3 ओवरों में चार विकेट के नुकसान पर 183 रन हो चुके थे।


पांचवें और छठे नंबर पर आए श्रेयस अय्यर और वेंटकेश अय्यर ने पारी को आगे बढ़ाया। दोनों ने मिलकर टीम के लिए 24 रन जोड़े, जिसके बाद श्रेयस (11) शम्सी की गेंद पर एलबीडब्ल्यू हो गए। सातवें स्थान पर आए शार्दुल ठाकुर ने वेंकटेश के साथ मिलकर टीम के लिए महत्वपूर्ण रन बनाए। दोनों ने मिलकर 42 गेंदों में 32 रनों की साझेदारी की और वेंकटेश (22) रन बनाकर आउट हो गए।


इस समय तक भारत का स्कोर 44 ओवरों में छह विकेट के नुकसान पर 239 रन था। आठवें नंबर पर आए रविचंद्रन अश्विन ने शार्दुल का साथ दिया। आखिरी के कुछ ओवरों में दोनों ने मिलकर टीम के लिए अहम रन बनाए। इस दौरान, दोनों ने खराब गेंदों को बाउंड्री तक पहुंचाने में सफल रहे, जिससे भारत 50 ओवरों में छह विकेट के नुकसान पर 287 रन बना पाया। शार्दुल तीन चौके और एक छक्के की मदद से 40 रन और अश्विन एक चौका और छक्के की मदद से 25 रन बनाकर नाबाद रहे। दोनों के बीच 38 गेंदों में 48 रनों की साझेदारी हुई। अब साउथ अफ्रीका को जीतने के लिए 288 रन बनाने होंगे।