होम > खेल

अब 60 की जगह 65 वर्ष की उम्र में रिटायर होंगे ऑफिशियल, बीसीसीआई ने लिया फैसला

अब 60 की जगह 65 वर्ष की उम्र में रिटायर होंगे ऑफिशियल, बीसीसीआई ने लिया फैसला

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने शनिवार को हुई वार्षिक आम बैठक में अहम फैसला लेते हुए अधिकारियों और सपोर्ट स्टाफ की रिटायरमेंट उम्र सीमा को पांच वर्षों के लिए बढ़ा दिया है। 


बीसीसीआई ने शनिवार को आयोजित की गई 90वीं एजीएम बैठक में मैच अधिकारियों और सपोर्ट स्टाफ की रिटायरमेंट उम्र को बढ़ाया है। अब से मैच अधिकारियों और सपोर्टिंग स्टाफ की रिटायटरमेंट आयु 65 वर्ष की होगी। इस फैसले के बाद उम्मीद है कि कई अंपायरों, स्कोरर्स और मैच रेफरी को फायदा होगा।


इस संबंध में बीसीसीआई के अधिकारी ने मीडिया को जानकारी दी कि हमारे में इस संबंध में दिशानिर्देश आए हैं कि अधिकारियों की रिटायरमेंट उम्र को पांच वर्षों के लिए बढ़ाया जा रहा है। इस बैठक में पूर्वोत्तर राज्यों, पु़्ड्डुचेरी, बिहार और उत्तराखंड के क्रिकेट के विकास के लिए भी प्रस्ताव पारित किया है।


उन्होंने मीडिया को बताया कि हर राज्य संघ को 10 करोड़ रुपये की राशि मंजूर की गई है। संघ की कोशिश है कि हर जगह पर इनडोर खेल सुविधाएं उपलब्ध कराई जाए और इन्हें विकसित किया जाए। इसके अलावा बोर्ड ने बृजेश पटेल और एमकेजे मजूमदार को भी इंडियन प्रीमियर लीग गवर्निंग काउंसिल में शामिल किया है। 


बीसीसीआई से मिली जानकारी के मुताबिक अब दौरा, कार्यक्रम एवं तकनीकी समिति, अंपायर समिति और दिव्यांग क्रिकेट समिति का गठन भी किया जाएगा।