होम > मौसम

भारत के पश्चिमी राज्यों में मानसून ट्रफ ढा सकता है कहर

भारत के पश्चिमी राज्यों में मानसून ट्रफ ढा सकता है कहर

भारत के पश्चिमी राज्यों में मॉनसून ट्रफ अपनी सामान्य स्थिति के साथ चल रही है और पूर्वी छोर अपनी सामान्य स्थिति से उत्तर की ओर चल रहा है और विज्ञापन कोमोरिन क्षेत्र और इससे सटे मालदीव पर एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र एक उत्तर दक्षिण ट्रफ रेखा उत्तरी कर्नाटक से कोमोरिन क्षेत्र तक फैली हुई है 7 सितंबर के दिन आसपास पश्चिम मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बने रहेंगे।

 पिछले कई दिनों से देश भर में हुई मौसमी के हलचल से 24 घंटों में उप हिमालयी पश्चिम बंगाल, असम, पूर्वी मध्य प्रदेश, दक्षिण आंतरिक कर्नाटक और तेलंगाना के अलग-अलग हिस्सों बहुत भारी बारिश हुई। जम्मू-कश्मीर, पश्चिम मध्य प्रदेश, बिहार, मेघालय, छत्तीसगढ़, मराठवाड़ा, रायलसीमा, तटीय आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु के अलग-अलग हिस्सों में एक या दो भारी बारिश के साथ मध्यम बारिश होने की उम्मीद है।

 वही अब पश्चिम बंगाल, सिक्किम, बिहार, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, शेष मध्य प्रदेश, झारखंड, मध्य महाराष्ट्र, गुजरात, तमिलनाडु, कर्नाटक में हल्की से मध्यम बारिश होगी। हिमाचल प्रदेश, तटीय आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में हल्की बारिश होने से अगले 24 घंटों के दौरान मौसम की संभावित गतिविधि के दौरान, लक्षद्वीप, केरल, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, छत्तीसगढ़, ओडिशा, पूर्वोत्तर भारत, तेलंगाना, रायलसीमा, कर्नाटक के कुछ हिस्सों में भारी बारिश हो सकती है।

 जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, झारखंड, उप हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, महाराष्ट्र, पूर्वी मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों में मध्यम बारिश और कुछ स्थानों पर बहुत भारी बारिश होना संभव है। हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड और जम्मू-कश्मीर क्षेत्र, गंगीय पश्चिम बंगाल, पश्चिम मध्य प्रदेश में छिटपुट बारिश होगी है।