होम > दुनिया

भारत की प्राथमिकता में पडोसी सबसे पहले: श्रीलंका में एस जयशंकर

भारत की प्राथमिकता में पडोसी सबसे पहले: श्रीलंका में एस जयशंकर

श्रीलंका की यात्रा पर गए भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे सहित कई नेताओं से बातचीत की, इस दौरान एस जयशंकर ने कहा श्रीलंका के आर्थिक हालात को सुधारने के लिए भारत ने उचित कदम उठाये हैं उन्होंने कहा भारत अपने पडोसी देशों को उच्च प्राथमिकता में रखता है।

संकट के समय श्रीलंका की सहायता करने के लिए महिंदा राजपक्षे ने धन्यवाद दिया

एस जयशंकर ने श्रीलंका के पूर्व राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे से भी मुलाकात की इसके बाद उन्होंने ट्वीट के माध्यम से कहा कि हमने इस मीटिंग में श्रीलंका के सामने मौजूदा चुनौतियों और जरूरत की इस घड़ी में भारत के मजबूत समर्थन पर चर्चा की, वहीँ राजपक्षे ने ट्वीट के माध्यम से भारत सरकार को धन्यवाद देते हुए कहा "श्रीलंका के संकट के समय में उसकी सहायता करने की दृढ़ प्रतिबद्धता और भारत और श्रीलंका के बीच साझा किए गए मजबूत संबंधों के लिए भारत सरकार को उन्होंने भी धन्यवाद दिया।"


भारत की वजह से हम आर्थिक रूप से स्थिर होने में सक्षम हो पाए: अली साबरी

श्रीलंका के विदेश मंत्री अली साबरी ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि जरुरी चीजों के  लिए हमे भारत से बहुत लोन मिला जिसकी वजह से हम स्थिर हो पाए हैं, पिछले वर्ष श्रीलंका में आर्थिक संकट के समय भारत ने 4 अरब डॉलर की मदद दी थी तथा वर्तमान समय में भारत ने IMF को लिखित अश्वासन दिया है जिससे उसे आर्थिक मदद मिल सके।

पूर्व क्रिकेटर सनथ जयसूर्या ने विदेश मंत्री का आभार व्यक्त किया

श्रीलंका में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए पूर्व क्रिकेटर सनथ जयसूर्या ने ट्वीट के माध्यम से धन्यवाद दिया उन्होंने लिखा " श्रीलंका में आने के लिए भारतीय पर्यटकों को प्रोत्साहित करने के लिए विदेश मंत्री डॉ एस जयशंकर का बहुत-बहुत धन्यवाद, हम भविष्य में साथ काम करने के लिए उत्सुक हैं।"