होम > दुनिया

न्यूज़ीलैंड की जैसिंडा अर्डर्न का कहना है कि वह फिर से चुनाव नहीं लड़ेंगी

न्यूज़ीलैंड की जैसिंडा अर्डर्न का कहना है कि वह फिर से चुनाव नहीं लड़ेंगी

गुरुवार को टेलीविज़न पर एक संबोधन में न्यूज़ीलैंड  की प्रधानमंत्री जैसिंडा अर्डर्न ने कहा है कि वह 7 फरवरी तक पद छोड़ने की योजना बना रही हैं और दोबारा चुनाव नहीं लड़ेंगी।

 सुश्री अर्डर्न ने यह भी कहा कि उन्हें  विश्वास है 14 अक्टूबर के आगामी चुनाव में  न्यूज़ीलैंड की लेबर पार्टी ही जीतेगी।

अपने आंसुओं को रोकते हुए उन्होंने अपने इस्तीफे का ऐलान किया और कहा, "अब वक्त गया है। मेरे पास अब इतनी हिम्मत नहीं है कि 4 साल और नेतृत्व करूं।"

जैसिंडा बोलीं," मैं इसलिए नहीं जा रही कि मुझे लगता है हम अगला इलेक्शन नहीं जीत सकते। मैं इसलिए जा रही हूं क्योंकि मुझे भरोसा है, हम जीत सकते हैं और हम जीतेंगे। मेरा इस्तीफा 7 फरवरी के बाद लागू हो जाएगा। इस्तीफे के पीछे कोई सीक्रेट नहीं है। मैं भी इंसान हूं। मैं जितना कर सकती थी, उतना किया। जितने समय तक कर सकती थी, किया। और अब वक्त गया है कि मैं इस्तीफा दे दूं।"

वो 2017 में 37 साल की उम्र में न्यूजीलैंड की सबसे कम उम्र की प्रधानमंत्री बनीं थीं। तब से लेकर अब तक कई संकटों का बेहतर तरीके से सामना करने के लिए कारण वह बहुत लोकप्रिय हुईं।

मई 2021 में फॉर्च्यून मैगजीन ने प्रधानमंत्री जेसिंडा आर्डर्न को दुनिया के सबसे महान नेताओं की लिस्ट में पहली रैंक दी थी। यह खिताब उनको कोरोना महामारी को फैलने से रोकने में, क्राइस्ट चर्च घटना का संज्ञान लेने में और वाइट आइलैंड में ज्वालामुखी फटने की घटना में उनके काम के लिए मिला था।