होम > दुनिया

अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने की पुनः कोशिश करेगा उत्तर कोरिया

अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने की पुनः कोशिश करेगा उत्तर कोरिया

कोविड महामारी ने कई देशो की अर्थव्यवस्था को क्षति पहुंचाई है। उत्तर कोरिया भी इस क्षति से अछूता नहीं है। राज्य मीडिया के मुताबिक, उत्तर कोरिया ने COVID-19 महामारी के कारण हुए व्यवधान के बाद औद्योगिक उत्पादन को एक बार फिर से सक्रिय करने और अर्थव्यवस्था को सामान्य ट्रैक पर लाने का संकल्प लिया है।

कोविड महामारी पर जीत हासिल करने के बाद उत्तर कोरिया ने अर्थव्यवस्था को पुनः पटरी पर लाने का संकल्प लिया है। कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी ने बताया, उत्तर कोरिया के मंत्रिमंडल के लिए मुख्य कार्य सुनिश्चित करने होंगे की, देश अपने आर्थिक सूचकांकों और 12 मुख्य लक्ष्यों को बिना असफल हुए पूरा करे। इतना ही नहीं बल्कि, गुप्त राज्य कोविद महामारी के कारण हुई उथल-पुथल के बाद उल्लेखनीय सफलताओं का दावा करता है। प्रीमियर किम टोक हुन ने एक संसदीय सत्र में बताया की, अधिकारी अर्थव्यवस्था को सामान्य ट्रैक पर रखेंगे और वर्तमान उत्पादन को पुनर्जीवित करके लोगों को एक स्थिर और बेहतर जीवन प्रदान करने की पूरी कोशिश करेंगे।

किम टोक हुन ने बताया की, देश की स्थापना की 75वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में, 2023 का विकास का एक महत्वपूर्ण वर्ष सुनिश्चित करना, कैबिनेट के माननीय कर्तव्य का सामना करता है। आगे उन्होंने कहा, उत्तर कोरिया ने आर्थिक निर्माण के संघर्ष में उल्लेखनीय सफलताएं और साथ ही महान महामारी विरोधी जीत हासिल की है। जिसे स्वास्थ्य के विश्व इतिहास में दर्ज किया गया है। आपको बता दे की, दक्षिण कोरिया के केंद्रीय बैंक के मुताबिक, उत्तर कोरिया की अर्थव्यवस्था 2021 में अनुमानित 0.1% घट गई है। गिरावट का दूसरा सीधा वर्ष, महामारी प्रतिबंधों और अंतरराष्ट्रीय प्रतिबंधों ने समावेशी राज्य के अलगाव को बढ़ा दिया है।