होम > दुनिया

मिस्र में मिले 2,500 साल पुराने मकबरे और सोने की जीभ वाले दो व्यक्तियों के अवशेष

मिस्र में मिले 2,500 साल पुराने मकबरे और सोने की जीभ वाले दो व्यक्तियों के अवशेष

काहिरा| मिस्त्र में एक स्पेनिश पुरातात्विक मिशन ने 2500 वर्ष पुराने दो मकबरों की खोज की है। ये को मकबरे मिन्या गवर्नमेंट में है, जो कि सैट राजवंश (664 ईसा पूर्व -525 ईसा पूर्व) से संबंधित हैं। इस संबंध में काहिरा में पर्यटन और पुरातनता मंत्रालय ने इसकी जानकारी दी है। 


स्थानीय मीडिया रिपोर्ट्स के अुसाद रविवार को एक बयान में कहा कि बार्सिलोना विश्वविद्यालय के मिशन को कब्रों में से एक में सोने की जीभ वाले दो अज्ञात व्यक्तियों के अवशेष मिले हैं। उन्होंने बताया कि मकबरे के अंदर चूना पत्थर से बना एक ताबूत मिला है, जिस पर महिला के रूप में एक ढक्कन है, साथ ही ताबूत के बगल में एक अज्ञात व्यक्ति के अवशेष भी मिले हैं।


वजीरी ने बताया कि मकबरे पर प्रारंभिक अध्ययन से पता चला है कि इसे पहले प्राचीन काल में खोला गया था। इस बीच, दूसरा मकबरा पूरी तरह से बंद कर दिया गया और मिशन ने इसे पहली बार खुदाई के दौरान खोला।


मिशन के उत्खनन के निदेशक, हसन आमेर ने कहा कि मिशन को दूसरे मकबरे में एक चूना पत्थर का ताबूत मिला, जिसमें मानव चेहरे के साथ संरक्षण की अच्छी स्थिति में दो ताबूतों के अलावा कैनोपिक बर्तन थे।


उन्होंने कहा कि एक बर्तन में 402 मूर्तियां थीं, जो कि फैएंसे से बनी थीं, साथ ही उनमें छोटे ताबीज और हरे मोतियों का एक सेट भी था।


मिस्र ने हाल के वर्षों में देश के विभिन्न हिस्सों में कई बड़े पैमाने पर पुरातात्विक खोजों को देखा है, जिनमें फैरोनिक कब्रें, मूर्तियां, ताबूत और ममी शामिल हैं।