होम > दुनिया

2018 के बाद अमेरिका ने किया आपने परमाणु भंडार का खुलासा

2018 के बाद अमेरिका ने किया आपने परमाणु भंडार का खुलासा

वाशिंगटन | अमेरिकी विदेश विभाग ने ट्रम्प प्रशासन की नीति के विपरीत, मंगलवार को अमेरिकी रक्षा भंडार में परमाणु हथियारों की संख्या का खुलासा किया है। विदेश विभाग ने कहा कि इससे मानव जाती के लिए खतरनाक हथियारों के प्रसार को नियंत्रित करने के वैश्विक प्रयासों को और बल मिलेगा।

विभाग ने कहा कि सक्रिय स्थिति के साथ-साथ लंबी अवधि के भंडारण में अमेरिकी हथियारों की संख्या 3,750 थी। यह एक साल पहले के 3,805 और 2018 में 3,785 से कम हुई है।

गौरतलब ही की साल 2003 तक, अमेरिकी परमाणु हथियार कुल 10,000 से थोड़ा ऊपर थे। 1967 में यह आंकड़ा 31,255 पर पहुंच गया था। पिछली बार अमेरिकी सरकार ने मार्च 2018 में अपना स्टॉकपाइल नंबर जारी किया था, जब उसने कहा था कि सितंबर 2017 तक उसके पास कुल 3,822 परमाणु वारहेड थे।  

हालाँकि इसके बाद ट्रम्प प्रशासन ने इन संख्याओं को गुप्त रखा था ।  

राष्ट्रीय परमाणु सुरक्षा प्रशासन (एनएनएसए) द्वारा दी गई एक रिपोर्ट के अनुसार, सितंबर 2020 तक अमेरिका के पास 3,750 वॉरहेड हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि भंडार में "सक्रिय" और "निष्क्रिय" दोनों हथियार शामिल हैं, जिसमें कहा गया है कि कुछ 2,000 अतिरिक्त हथियार वर्तमान में सेवानिवृत्त हैं और निराकरण की प्रतीक्षा कर रहे हैं।

इस खुलासे ने परमाणु भंडार के आकार को वगीर्कृत करने के लिए पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के प्रशासन द्वारा शुरू की गई नीति को उलट दिया है।
दुनिया के अधिकांश परमाणु हथियार अमेरिका और रूस के पास हैं। वाशिंगटन, डीसी स्थित थिंक टैंक फेडरेशन ऑफ अमेरिकन साइंटिस्ट्स के लेटेस्ट आंकड़ों के अनुसार, 90 प्रतिशत से अधिक वैश्विक परमाणु हथियार दोनों देशों के पास हैं।