होम > दुनिया

ब्लिंकन का बिलावल के लिए एक मशवरा- भारत के साथ संबंध प्रबंधित करें

ब्लिंकन का बिलावल के लिए एक मशवरा- भारत के साथ संबंध प्रबंधित करें

सोमवार को अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने पाकिस्तान के विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो जरदारी से मुलाकात की। इस मुलाकात के दौरान दोनों ने भारत के साथ संबंधों के प्रबंधन के महत्व और कर्ज के मुद्दे पर चीन के साथ जुड़ाव सहित कई प्रमुख मुद्दों पर चर्चा की।

पाकिस्तान में आयी विनाशकारी बाढ़ को लेकर भी चर्चा हुई। दोनों विदेश मंत्रियों की वाशिंगटन में हुई मुलाकात के दौरान पाकिस्तान ने विनाशकारी बाढ़ का ज़िक्र करते हुए बताया की उनके देश का एक तिहाई हिस्सा पानी के भीतर है, जो यूनाइटेड किंगडम की भूमि से अधिक है। प्रभावित 33 मिलियन लोगों में से 16 मिलियन बच्चे हैं। इसमें 1,600 से अधिक लोगों की जान जा चुकी है उनमें से एक तिहाई बच्चे हैं और पहले से ही अर्थव्यवस्था के संकटो से झूझ रहे पाकिस्तान पर और भारी आर्थिक बोझ आ गया है।

वाशिंगटन में हुई बैठक के दौरान, सचिव ब्लिंकन ने इस बात पर प्रकाश डाला कि अमेरिका ने भारी बाढ़ के बाद पाकिस्तान को मानवीय सहायता में 56 मिलियन अमरीकी डालर से अधिक की सहायता की है। उन्होंने कहा कि अमेरिका ने आश्रय, तंबू और टारप बनाने के लिए भोजन और सामग्री जैसी आपूर्ति से भरे लगभग 17 विमानों को भी भेजा है। इतना ही नहीं बल्कि ब्लिंकन ने पाकिस्तानी किसानों को बाढ़ से हुए नुकसान से उबरने में मदद करने के लिए खाद्य सुरक्षा सहायता में एक और 10 मिलियन अमरीकी डालर की भी घोषणा की।

ब्लिंकन ने मुलाकात के दौरान कहा, आज की हमारी चर्चा में, हमने भारत के साथ एक जिम्मेदार संबंध के प्रबंधन के महत्व के बारे में बात की, और मैंने अपने सहयोगियों से ऋण राहत और पुनर्गठन के कुछ महत्वपूर्ण मुद्दों पर चीन को शामिल करने का भी आग्रह किया ताकि पाकिस्तान बाढ़ से और अधिक तेज़ी से उबर सके। हाल ही में, अमेरिकी विदेश विभाग ने पाकिस्तान वायु सेना F-16 बेड़े की स्थिरता के लिए पाकिस्तानी सरकार को एक विदेशी सैन्य बिक्री (FMS) को मंजूरी दी, जिसने भारत सरकार की नाराजगी को आकर्षित किया।