होम > दुनिया

यौन शोषण के आरोप में ब्रिटेन के राजकुमार पर चलेगा मुकदमा, लौटाई सभी उपाधियां

यौन शोषण के आरोप में ब्रिटेन के राजकुमार पर चलेगा मुकदमा, लौटाई सभी उपाधियां

ब्रिटेन के शाही परिवार के राजकुमार को मुकदमे का सामना करना पड़ेगा। ब्रिटेन के राजकुमार प्रिंस एंड्रयू के खिलाफ दायर यौन शोषण के मामले को अमेरिका की अदालत ने खारिज करने से इनकार कर दिया है। 


अगर इस मामले की जांच के बाद वो दोषी पाए जाते हैं तो उन्हें सजा भी भुगतनी होगी। जज लुईस कपलान ने एंड्रयू के वकीलों उन तर्कों को खारिज कर दिया, जिसमें कहा गया था कि वजीनिया गिफ्रे का मामले शुरुआत में ही रद्द कर देना चाहिए।


इस मामले पर न्यूयॉर्क संघीय अदालत के न्यायाधीश ने अपना फैसला सुनाते हुए कहा कि पीड़िता ग्रिफे द्वारा दर्ज कराए गए यौन उत्पीड़न के मामले को खारिज नहीं किया जा सकता। उन्होंने कहा कि प्रिंस एंड्रयू को मुकदमे का सामना करना ही पड़ेगा। 


न्यायाधीश कपलान ने एंड्रयू के वकीलों की दलील को खारिज कर दिया। न्यायाधीश का कहना है कि फायनेंसर एपस्टीन (जिसने 2019 को जेल में खुदकुशी कर ली थी) और गिफ्रे के बीच पांच लाख डॉलर के समझौते में प्रिंस शामिल नहीं थे। ऐसे में प्रिंस को मुकदमे का सामना करने से बख्शा नहीं जा सकता है। 


जानकारी के अनुसार पीड़िता वर्जीनिया गिफ्रे ने प्रिंस एंड्रयू के खिलाफ अगस्त में मामला दायर किया था। उन्होंने आरोप लगाया था कि वर्ष 2001 में फाइनेंसर जेफरी एपस्टीन की मदद से प्रिंस ने उनका यौन शोषण किया था। घटना के समय में गिफ्रे की उम्र 17 वर्ष की थी। इस बारे में प्रिंस भी वाकीफ थे कि गिफ्रे नाबालिग थी। गिफ्रे ने दावा किया कि प्रिंस ने तीन अलग-अलग स्थानों पर उनका यौन शोषण किया था।


ब्रिटिश राजकुमार एंड्रयू ने रानी को लौटाईं सभी उपाधियां 


इस आरोप के बाद प्रिंस एंड्रयू ने अपनी सभी सैन्य उपाधियां और शाही संरक्षण सम्राट को लौटा दिया है। बता दें कि प्रिंस एंड्रयू ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के छोटे बेटे है। प्रिंस द्वारा लौटाई गई उपाधियों की जानकारी बकिंघम पैलेस ने गुरुवार को दी।