होम > दुनिया

6.5 लाख से ज्यादा मौतों के बाद अमेरिका में कोरोना मृत्यु का आंकड़ा 1918 के फ्लू से ज्यादा

6.5 लाख से ज्यादा मौतों के बाद अमेरिका में कोरोना मृत्यु का आंकड़ा 1918 के फ्लू से ज्यादा

वाशिंगटन | विश्व में कोरोना महामारी फैलने के बाद से ही अमेरिका कुछ सबसे ज्यादा प्रभावित देशों में से एक बन हुआ है। संक्रमण और मृत्यु की तुलना में अमेरिका विश्व में पहले स्थान पर है। इसके बाद कोरोना (Corona) से सबसे ज्यादा प्रभावित देशों में ब्राज़ील, ब्रिटैन और भारत का स्थान है। मंगलवार को जारी ताज़ा आंकड़ों के मुताबिल अमेरिका में कोविड-19 (Covid - 19) से मरने वालों की संख्या 675,000 को पार कर गई है।  ये संख्या 1918 के इन्फ्लूएंजा महामारी (Influenza pandemic) से हुई अनुमानित मौतों से भी ज्यादा है। जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी (John Hopkins University) के आंकड़ों का का हवाला देते हुए एक समाचार एजेंसी ने सोमवार को बताया कि, शाम 4:21 बजे तक कोविड-19 के कारण 675,446 अमेरिकी लोग मारे जा चुके थे।

फिलहाल अमेरिका में कुल कोविड -19 मामले 4.2 करोड़ से ज्यादा हैं और इस समय यूएस नए डेल्टा वायरस वेरिएंट की एक और लहर का सामना कर रहा है, जिससे मृत्यु दर में वृद्धि जारी रहने की उम्मीद है।

सेंटर फॉर डिजीज नियंत्रण एवं रोकथाम (Center for disease control and prevention), के पूर्व प्रमुख टॉम फ्रिडेन ने ट्वीट कर 13 सितंबर को बताया, "अमेरिका में कोविड से होने वाली मौतों की संख्या इस महीने 1918 फ्लू महामारी के टोल को पार कर जाएगी।" रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्रों के अनुसार, 1918 के फ्लू ने अनुमानित 675,000 अमेरिकियों की जान ले ली थी। इसे हाल के इतिहास में अब तक की सबसे घातक महामारी माना जा रहा था।

0Comments