होम > दुनिया

यूरोपीय संघ की चेतावनी, अब फैल सकता है मौसमी फ्लू

यूरोपीय संघ की चेतावनी, अब फैल सकता है मौसमी फ्लू

ब्रसेल्स| बदलता मौसम कई तरह की बीमारियां लेकर आता है। कम्जोर इम्यूनिटी वाले लोगों को इन दिनों अधिक सावधानी बरतने की जरुरत होती है। वहीं सर्दियों के मौसम में फ्लू होने का खतरा अधिक बढ़ जाता है। इस संबंध में स्वास्थ्य और खाद्य सुरक्षा के लिए यूरोपीय आयुक्त स्टेला क्यारीकाइड्स ने शुक्रवार को चेतावनी दी है।


उन्होंने कहा कि सर्दी के आते ही कोविड -19 और मौसमी इन्फ्लूएंजा के कारण बनने वाले वायरस का प्रसार संभवत: एक 'ट्विंडेमिक' की वजह बन सकता है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, क्यारीकाइड्स ने एक बयान में कहा कि हमें पहले से तैयारी करने की आवश्यकता है, ताकि हमारी स्वास्थ्य प्रणाली पर अधिक बोझ न पड़े।


आयुक्त ने कहा कि यूरोपीय संघ (ईयू) में हर साल 40,000 लोग महामारी के बिना भी इन्फ्लूएंजा से संबंधित कारणों से अपनी जान गंवाते हैं। हम जनता से मौसमी इन्फ्लूएंजा के खिलाफ टीका लगवाने का आह्वान करते हैं।


उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि कोविड-19 प्रतिबंधों के साथ, यूरोपीय संघ में पिछले साल बेहद हल्के फ्लू का मौसम था। आइए सुनिश्चित करें कि इस साल हमारे पास इसका पुनरुत्थान न हो, क्योंकि दुनियाभर में सभी देश धीरे धीरे फिर खुल रहे है।


यूरोपियन सेंटर फॉर डिजीज प्रिवेंशन एंड कंट्रोल (ईसीडीसी) के अनुसार, यूरोपीय संघ में लगभग तीन-चौथाई वयस्क आबादी को कोविड -19 के खिलाफ पूरी तरह से टीका लगाया गया है।


ईसीडीसी के आंकड़े बताते हैं कि पुर्तगाल और आयरलैंड में 90 प्रतिशत वयस्कों को पूरी तरह से टीका लगाया गया है, रोमानिया में केवल 34.8 प्रतिशत वयस्कों और बुल्गारिया में 23.7 प्रतिशत वयस्कों को आवश्यक खुराक प्राप्त हुई है।

6.5 लाख से ज्यादा मौतों के बाद अमेरिका में कोरोना मृत्यु का आंकड़ा 1918 के फ्लू से ज्यादा

यूपी और बिहार के बाद अब कर्नाटक में बच्चों के वायरल फ्लू के मामले बढ़े