होम > दुनिया

द्विपक्षीय रणनीतिक साझेदारी मजबूत करने इस्राइल जायेंगे विदेश मंत्री डॉ. एस. जयशंकर

द्विपक्षीय रणनीतिक साझेदारी मजबूत करने इस्राइल जायेंगे विदेश मंत्री डॉ. एस. जयशंकर

नई दिल्ली। विदेश मंत्री डॉ. सु्ब्रहमण्‍यम जयशंकर इस्राइल के विदेश मंत्री यैर लापिड के निमंत्रण पर आज से इस्राइल की पांच दिवसीय सरकारी यात्रा पर जाएंगे। वह इस्राइल के विदेश मंत्री के साथ द्विपक्षीय बैठक करेंगे। वह राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और संसद के अध्‍यक्ष से भी मुलाकात करेंगे।

जुलाई 2017 में प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी की इस्राइल की ऐतिहासिक यात्रा के दौरान भारत और इस्राइल ने द्विपक्षीय संबंधों का दर्जा बढाकर रणनीतिक साझेदारी किया था। तब से, दोनों देशों के बीच संबंधों ने ज्ञान-आधारित साझेदारी का विस्तार करने पर ध्यान केंद्रित किया है, जिसमें नवाचार और अनुसंधान में सहयोग शामिल है जिसमें मेक इन इंडिया पहल को बढ़ावा देना भी शामिल है।

विदेश राज्‍यमंत्री वी. मुरलीधरन कल सूडान और दक्षिण सूडान रवाना होंगे

सूडान यात्रा के पहले चरण में मुरलीधरन, वहां की विदेश मंत्री मरियम अल-सादिक अल-महदी और अन्‍य गण्‍यमान्‍य व्‍यक्तियों के साथ द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और आपसी हित के अंतर्राष्‍ट्रीय मुद्दों पर बातचीत करेंगे।

मुरलीधरन, सूडान के राष्‍ट्रपति फर्स्‍ट लेफ्टिनेंट जनरल अब्‍दल फतह अब्‍दलरहमान अल-बुरहान और प्रधानमंत्री अब्‍दुला हमडोक से मुलाकात करेंगे। वह सूडान की यात्रा के दौरान भारतीय समुदाय के साथ विचार-विमर्श भी करेंगे।

अपनी यात्रा के दूसरे चरण, दक्षिण सूडान में मुरलीधरन राष्‍ट्रपति जनरल साल्‍वा कीर मयारदित से मुलाकात करेंगे। मुरलीधरन का जुबा में भारतीय समुदाय को संबोधित करने और भारतीय उद्यमियों के साथ विचार विमर्श करने का कार्यक्रम है।