होम > दुनिया

ISIS ने काबुल गुरुद्वारा पर हमला किया, पैगम्बर के अपमान का हवाला दिया

ISIS ने काबुल गुरुद्वारा पर हमला किया, पैगम्बर के अपमान का हवाला दिया

ISIS ने काबुल गुरुद्वारा पर हमला किया, पैगम्बर के अपमान का हवाला दिया

काबुल: आईएसआईएस ने अफगानिस्तान में एक गुरुद्वारे पर हुए हमले की जिम्मेदारी ली और कहा कि यह पैगंबर मोहम्मद के 'अपमान' का गुस्सा था। भाजपा से निलंबित नेता नूपुर शर्मा ने इस महीने की शुरुआत में पैगंबर के बारे में टिप्पणी की थी जिसके चलते कई देशों में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए थे | ISIS ने अपनी एक प्रचार की साईट पर एक पोस्ट किया और उसमे जानकारी दी कि, शनिवार को हुए इस हमले में ISIS ने मुख्य  रूप से हिंदुओ और सिखों  को अपना निशाना बनाया था |

ISIS ने कहा कि, उसके लड़ाके ने गुरुद्वारे में पहले गॉर्ड को गोली मारी फिर फिर मशीन गन से फायरिंग शुरू कर दी, जिससे काफी लोगो की जान चली गई |

गृह मंत्रालय के प्रवक्ता अब्दुल नफी ताकोर ने कहा कि हमलावरों ने गुरुद्वारे में प्रवेश करते ही एक ग्रेनेड फेंका और आग लगा दी। यह हमला भारत से अफगानिस्तान को मानवीय सहायता के वितरण पर चर्चा करने के लिए काबुल में एक भारतीय प्रतिनिधिमंडल की यात्रा के ख़त्म होने के बाद हुआ है।

अफगानिस्तान और भारतीय मीडिया रिपोर्टों में कहा गया है कि प्रतिनिधिमंडल ने तालिबान के अधिकारियों के साथ भारतीय दूतावास को फिर से खोलने  पर चर्चा व्यक्त की, जिसे पिछले साल अगस्त में तालिबान के सत्ता में आने के बाद बंद कर दिया गया था।

अफ़ग़ानिस्तान में रहने वाले सिखों की संख्या घटकर लगभग 200 रह गई है, जो 1970 के दशक में लगभग आधा मिलियन थी। हाल के महीनों में, महिलाओं और बच्चों सहित कई सिखों ने उस परिसर में शरण ली थी जिस पर शनिवार को हमला किया गया था।