होम > दुनिया

इंडोनेशिया ने बॉक्साइट, तांबा का निर्यात बंद करने की योजना बनाई

इंडोनेशिया ने बॉक्साइट, तांबा का निर्यात बंद करने की योजना बनाई

जकार्ता | इंडोनेशिया ने 2022 में बॉक्साइट अयस्क और 2023 में तांबे के अयस्क के निर्यात को बंद की योजना बनाई है, ताकि डाउनस्ट्रीम क्षेत्र में निवेश को बढ़ावा दिया जा सके और उच्च मूल्य वाले तैयार उत्पादों का निर्यात किया जा सके। ये जानकारी इंडोनेशिया के राष्ट्रपति जोको विडोडो ने दी। बॉक्साइट अयस्क एल्यूमीनियम के लिए मुख्य मटेरियल है, जबकि तांबे के सांद्रों का व्यापक रूप से सोने और चांदी जैसी कीमती धातुओं के उत्पादन में उपयोग किया जाता है।


इंडोनेशिया इन धातुओं का बड़ा निर्यातक है। देश मुख्य रूप से एशियाई देशों को दो खनिज वस्तुओं का निर्यात करता है।


दक्षिण पूर्व एशियाई देश ने 1 जनवरी, 2020 से, निकल अयस्क के निर्यात पर प्रतिबंध लगा दिया था।


दुनिया के सबसे बड़े निकल अयस्क उत्पादक देश का लक्ष्य खनिकों को स्मेल्टर विकसित करने और धातु अयस्क को घरेलू स्तर पर परिष्कृत करने के लिए प्रेरित करना है ताकि वे उच्च मूल्य वाले उत्पादों का निर्यात कर सकें।