होम > दुनिया

ताईवानी रक्षा मंत्रालय के डेप्युटी हेड ओ यांग ली-हिंग का आकस्मिक निधन

ताईवानी रक्षा मंत्रालय के डेप्युटी हेड ओ यांग ली-हिंग का आकस्मिक निधन

ताइवान के रक्षा मंत्रालय की रिसर्च एंड डेवलेपमेंट यूनिट के डेप्युटी हेड ओ यांग ली-हिंग की दक्षिणी ताइवान में एक होटल के कमरे में मौत हो गई है, मौत का कारण दिल का दौरा पड़ना बताया जा रहा है।

ओ यांग के परिवार वालों ने भी इस बात की पुष्टि की है कि उन्हें लम्बे अर्से से हार्ट की बीमारी थी। ओ यांग देश के दक्षिणी प्रांत पिंगटुंग में एक बिजनस ट्रिप पर गए थे। मिसाइल प्रोडक्शन प्रोजेक्ट्स की देखभाल के लिए इसी साल की शुरुआत में उन्होंने पद ग्रहण किया था। सेना की संस्था इस साल अपनी वार्षिक मिसाइल उत्पादन क्षमता को दोगुना से अधिक, 500 के करीब, करने के लिए काम कर रही है। द्वीप इस वक्त चीन की ओर से धमकियों और सैन्य खतरे का सामना कर रहा है।

चूँकि देश की सेना वर्तमान समय में अलर्ट मोड में है, यही वजह है कि ताइवानी रक्षा मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी की आकस्मिक मौत चर्चा का विषय बनी हुई हैं। एक तरफ पड़ोसी देश चीन ताइवान को घेरकर अब तक का सबसे बड़ा सैन्य अभ्यास कर रहा है। गुरुवार को चीन की तरफ से दागी गईं पांच बैलिस्टिक मिसाइलें जापान के इलाके में भी गिरीं। जापान के रक्षा मंत्रालय ने इसकी जानकारी देते हुए चीन की कार्रवाई की निंदा की। अमेरिका के विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने शुक्रवार को कहा कि ताइवान को लक्षित करके चीन की ओर से किया जा रहा सैन्य अभ्यास और जापान के विशेष आर्थिक क्षेत्र में मिसाइलों का गिरना 'उकसावे' का प्रतीक है और चीन को अपने कदम वापस खींचने चाहिए।

अमेरिकी प्रतिनिधि सभा की अध्यक्ष  नैंसी पेलोसी की ताइवान यात्रा से खफा चीन ने सैन्य अभ्यास शुरू किया है। चीन स्वशासित द्वीप ताइवान को अपना हिस्सा होने का दावा करता है। ब्लिंकन ने प्रत्यक्ष तौर पर चीनी विदेश मंत्री के साथ हाल के दिनों में पेलोसी की यात्रा को युद्ध और उकसावे की कार्रवाई के तौर पर नहीं देखना चाहिए, क्योंकि उन्होंने जो कुछ किया है, उसे न्यायोचित नहीं ठहराया जा सकता।  मैंने ऐसी  सैन्य  कार्रवाई समाप्त करने का आग्रह किया है।