होम > दुनिया

पीएम मोदी का पत्र अफगान समुदाय को सौंप सिख परिवार से की मुलाकात

पीएम मोदी का पत्र अफगान समुदाय को सौंप सिख परिवार से की मुलाकात

सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पत्र भारत में रहने वाले अफगान सिख समुदाय के सदस्यों को केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने सौंप दिया। उनके ऐसा करने के पीछे का कारण यह था की उन्होंने एक सिख व्यक्ति सविंदर सिंह के अंतिम संस्कार में भाग लिया था। हरदीप सिंह पुरी ने पश्चिमी दिल्ली के तिलक नगर में गुरुद्वारा गुरु अर्जन देव जी में आयोजित एंटी अरदास और प्रार्थना समारोह में भाग लिया। भारत में अफगान अल्पसंख्यक नेताओं ने भारत सरकार द्वारा उन्हें दिए गए स्नेह और महत्व के लिए हरदीप सिंह पुरी को सिरोपा से सम्मानित किया। इसके बाद हरदीप सिंह पुरी ने परिवार से मुलाकात की और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पत्र पढ़ा।

खुरासान प्रांत (ISKP) ने अफगानिस्तान के काबुल शहर में कर्ता परवन गुरुद्वारे पर हमला किया था। ISKP ने एक बयान जारी कर हमले की जिम्मेदारी भी ली है। उनके मुताबिक अबू मोहम्मद अल ताजिकी ने इस हमले को अंजाम दिया था जो तीन घंटे तक चला था। समूह ने दावा किया कि हमले में सबमशीन गन और हथगोले के अलावा, चार आईईडी और एक कार बम का भी इस्तेमाल किया गया था।

हमले में एक सिख व्यक्ति और एक मुस्लिम सुरक्षा गार्ड सहित कम से कम दो नागरिकों की मौत हो गई थी और सात अन्य घायल हो गए थे। इसने आगे दावा किया कि हमले में लगभग 50 हिंदू सिख और तालिबान सदस्य मारे गए थे और यह हमला एक भारतीय राजनेता द्वारा पैगंबर मोहम्मद के अपमान का बदला लेने के लिए किया गया था। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को अफगानिस्तान की राजधानी में करते परवन गुरुद्वारे में हुए आतंकवादी हमले की निंदा की। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा, "काबुल में करते परवन गुरुद्वारे के खिलाफ कायरतापूर्ण आतंकवादी हमले से स्तब्ध हूं। मैं इस बर्बर हमले की निंदा करता हूं और भक्तों की सुरक्षा और कल्याण के लिए प्रार्थना करता हूं।"