होम > दुनिया

श्रीलंका प्रधानमंत्री देश में खाद्य संकट को कम करने के लिए महतवपूर्ण कदम उठाएगे

श्रीलंका प्रधानमंत्री देश में खाद्य संकट को कम करने के लिए महतवपूर्ण कदम उठाएगे

श्रीलंका के प्रधान मंत्री रानिल विक्रमसिंघे ने देश में अभूतपूर्व आर्थिक उथल-पुथल के बीच कहा कि द्वीप राष्ट्र में खाद्य संकट को कम करने के लिए अहम एवं ठोस कदम उठाए जाएंगे। एक रिपोर्ट के अनुसार, खाद्य सुरक्षा समिति की एक बैठक को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि श्रीलंका में खाद्य संकट से लगभग चार से पांच मिलियन लोग सीधे प्रभावित हो सकते हैऔर इसे रोकने के लिए उपाय किए सरकार महतवपूर्ण कदम उठाएगी। उन्होंने कहा कि सांसद 225 संभागों में खाद्य सुरक्षा कार्यक्रमों की कमान संभालेगी।

विकलांग लोगों के लिए बच्चों के घरों, नर्सिंग होम और घरों के लिए खाद्य सुरक्षा पर विशेष जोर दिया जायेगा। इसी के लिए प्रतिस्पर्धी बाजार के निर्माण के लिए एक आधुनिक कृषि प्रणाली के लिए एक दीर्घकालिक योजना तैयार की जाएगी। इसी के साथ उन्होंने अधिकारियों को भोजन, गैस और ईंधन उपलब्ध कराने के मामले में मछली पकड़ने वाले समुदाय को प्राथमिकता देने का निर्देश दिया। उन्होंने शमन उपायों पर गौर करने के लिए सांसद निमल लांसा की अध्यक्षता में एक समिति के गठन का आदेश दिया और दो सप्ताह के भीतर रणनीति तैयार करने की भी मांग की।

आर्थिक संकट ने विशेष रूप से खाद्य सुरक्षा, कृषि, आजीविका और स्वास्थ्य सेवाओं को प्रभावित किया है। पिछले फसल के मौसम में खाद्य उत्पादन पिछले वर्ष की तुलना में 40 - 50 प्रतिशत कम था, और इसी के कारण वर्तमान कृषि मौसम जोखिम में है।