होम > दुनिया

WHO ने की कमजोर इम्यूनिटी वालों के लिए वैक्सीन की तीसरी खुराक की सिफारिश

WHO ने की कमजोर इम्यूनिटी वालों के लिए वैक्सीन की तीसरी खुराक की सिफारिश

भारत विश्व के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान को सु व्यस्थित तरीके से चला रहा है। देश में अबतक 95 करोड़ 80 लाख वैक्सीन की  चुकी है। अब कई देशों में कोरोना वैक्सीन के बूस्टर शॉट्स की भी तैयारी हो रही है।  ऐसे में विश्व स्वास्थ्य संगठन ने सिफारिश की है कि कमजोर प्रतिरक्षा प्रणाली वाले लोगों को सभी अधिकृत COVID-19 टीकों की एक अतिरिक्त खुराक की पेशकश की जानी चाहिए। 

संयुक्त राष्ट्र की स्वास्थ्य एजेंसी के रणनीतिक सलाहकार समूह के विशेषज्ञों ने कहा कि अतिरिक्त खुराक को एक विस्तारित प्राथमिक श्रृंखला के हिस्से के रूप में दिया जाना चाहिए क्योंकि इन व्यक्तियों में दो खुराकों के बाद टीकाकरण के लिए पर्याप्त रूप से प्रतिक्रिया करने की संभावना कम है और ये सभी गंभीर COVID-19 रोग के लिए उच्च जोखिम श्रेणी में हैं। 

WHO के मुताबिक़ 60 से अधिक उम्र के लोग जिन्हें चीन के सिनोवैक और सिनोफार्म वैक्सीन से पूरी तरह से प्रतिरक्षित किया गया है, उन्हें अतिरिक्त तीसरी COVID-19 वैक्सीन खुराक की पेशकश की जानी चाहिए। विशेषज्ञों ने जोर देकर कहा कि वे बड़े पैमाने पर आबादी के लिए एक अतिरिक्त बूस्टर खुराक की सिफारिश बिलकुल नहीं कर रहे हैं।  बल्कि सिर्फ उच्च जोखिम श्रेणी में आने वाले निम्न रोग प्रतिरोधक क्षमता वाले लिए इसको लगाए जाने की वकालत केर।  

0Comments