होम > दुनिया

एड्स को खत्म करने के लिए जिम्बाब्वे ने शुरु की पंचवर्षीय योजना

एड्स को खत्म करने के लिए जिम्बाब्वे ने शुरु की पंचवर्षीय योजना

हरारे| विश्व एड्स दिवस से पूर्व जिम्बाब्वे ने राष्ट्रीय एड्स रणनीतिक योजना की शुरुआत की है। ये योजना आगामी पांच वर्षों के लिए संसाधन आवंटन और देश की एचआईवी प्रतिक्रिया के कार्यान्वयन का मार्गदर्शन करेगी। ये जानकारी स्थानीय मीडिया की ओर से दी गई है।


स्थानीय मीडिया की मानें तो स्वास्थ्य और बाल देखभाल मंत्रालय के मुख्य निदेशक, मुन्यारदजी धोबी ने वैश्विक महामारी के खिलाफ चल रही लड़ाई में राष्ट्रीय एड्स परिषद की प्रगति की प्रशंसा करते हुए कहा, सोमवार को शुरू की गई रणनीतिक योजना 2021-2025 तक चलेगी और 2030 तक देश को एड्स खत्म करने में मदद करेगी।


धोबी ने कहा, "हम 90-90-90 अंक के लक्ष्य तक पहुंच चुके हैं और अब हम 95-95-95 के अंक तक पहुंचना चाहते हैं और यह किया जा सकता है अगर हम बुजुर्ग पुरुषों के साथ काम करते हैं। एचआईवी प्रसार और मृत्यु दर कम हुई है और अब हम 2030 तक एड्स खत्म करने की दिशा में काम कर रहे हैं। हमें सतर्क रहना है।"


2020 तक 90-90-90-लक्ष्य का मतलब है, एचआईवी के साथ रहने वाले सभी लोगों में से 90 प्रतिशत को उनकी एचआईवी स्थिति का पता चल जाएगा, एचआईवी संक्रमण वाले सभी लोगों में से 90 प्रतिशत को लगातार एंटीरेट्रोवाइरल थेरेपी मिलेगी और एंटीरेट्रोवाइरल थेरेपी प्राप्त करने वाले सभी लोगों में से 90 प्रतिशत को वायरल दमन होगा।


यूएनएड्स की देश निदेशक सोफिया मोनिको ने अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए देश के लिए स्वास्थ्य वित्त पोषण में एक आदर्श बदलाव की आवश्यकता पर जोर डाला।


उन्होंने कहा, "एड्स को खत्म करने के लिए, हमें असमानताओं को खत्म करना होगा। हमें स्वास्थ्य वित्त पोषण में एक आदर्श बदलाव की आवश्यकता है। हमें डेटा सिस्टम में निवेश करने की आवश्यकता है।"


राष्ट्रीय एड्स परिषद बोर्ड की अध्यक्ष मार्गरेट मेहलोमाकुलु को इस वर्ष के राष्ट्रीय एड्स दिवस स्मरणोत्सव की थीम "महामारी खत्म असमानता खत्म, एड्स खत्म" के रूप में लॉन्च करने का अवसर मिला।