होम > दुनिया

ब्रेन की गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं शी जिनपिंग, इलाज करवाने से किया इंकार

ब्रेन की गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं शी जिनपिंग, इलाज करवाने से किया इंकार

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग को एक गंभीर बीमारी हो गई है। इस गंभीर बीमारी का इलाज सर्जरी के जरिए हो सकता है, मगर राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने इस बीमारी की सर्जरी कराने से साफ तौर पर इनकार कर दिया है।


जानकारी है कि चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ब्रेन एन्यूरिज्म से पीड़ित हैं। लेकिन उन्होंने इसके इलाज के लिए सर्जरी करवाने से साफ इन्कार कर दिया है। 

हालांकि अभी तक इसकी पुष्टि नहीं हुई है। चीनी ब्लॉगर्स का कहना है कि 68 वर्षीय शी जिनपिंग ने ब्रेन सर्जरी की जगह पारंपरिक दवाइयों से इलाज करवाने का विकल्प चुना है।


दो साल पहले कोविड-19 महामारी की शुरूआत में, चीन ने बीमारी के इलाज के लिए पारंपरिक दवाइयों के विकल्पों के निर्यात पर काम किया था।


मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि शी जिनपिंग इस अभियान के प्रमुख समर्थकों में से एक थे। रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की तरह, शी जिनपिंग के स्वास्थ्य से जुड़ी जानकारी भी गुप्त रहती है।


मीडिया ने बताया कि 2020 में पहली कोविड 19 की लहर के दौरान शेनझेन में एक जनसभा को संबोधित करते हुए वह भाषण के दौरान खांसने लगे थे। उनकी खांसी और चेहरे को देख अंदाजा लगाया जा रहा था, कि उनका स्वास्थ्य ठीक नहीं है।


मार्च 2019 में इटली यात्रा के दौरान शी जिनपिंग लंगड़ाते हुए दिखे थे। उन्हें बैठने के लिए भी दूसरों की मदद की जरूरत पड़ रही थी। पिछले हफ्ते पोलित ब्यूरो स्टेट काउंसिल ने जनता को लॉकडाउन के खिलाफ बगावत नहीं करने की चेतावनी दी थी।


चीन ने जीरो कोविड नीति के तहत कई सख्त नियम लागू किए हैं। जिसमें अपार्टमेंट के चारों ओर फेसिंग और गली पर मेटल बैरियर्स लगाना शामिल हैं।


कम संक्रमण रेट्स के बावजूद अनुमानित 180 मिलियन चीनी लॉकडाउन में हैं।