राज्यउत्तर प्रदेश / यूपी

योगी सरकार के निर्देश पर शिव भक्त कांवड़ियों पर हेलीकॉप्टर से हुई पुष्पवर्षा

योगी सरकार में शिवभक्त कांवड़ियों की सुविधा और सुरक्षा का ध्यान रखने के साथ उनकी आस्था का सम्मान भी निरन्तर हो रहा है। सावन के चौथे सोमवार को कुम्भ नगरी प्रयागराज में शिव भक्तों पर हेलीकॉप्टर से पुष्प वर्षा की गई। पुष्पवर्षा के सम्मान से संगम और गंगा के सभी तट बोल-बम के जयघोष से गूँज उठे।

कुम्भ नगरी में शिवभक्तों पर हेलीकॉप्टर से हुई पुष्प वर्षा

श्रावण मास में कुम्भ नगरी प्रयागराज में संगम और गंगा के सभी तट केसरिया रंग से रंग चुके हैं। पुराणों में वर्णित आदि शिवालय श्री ब्रह्मेश्वर महादेव मंदिर, श्री मनकामेश्वर मंदिर और संगम के घाटों से बाबा विश्वनाथ की नगरी काशी गंगा जल ले जा रहे शिव भक्त कांवड़ियों की लम्बी-लम्बी कतारों पर सोमवार को हेलीकाप्टर से पुष्प वर्षा की गई। डीएम प्रयागराज संजय कुमार खत्री का कहना है कि सरकार के निर्देश पर प्रयागराज में शिवभक्त कांवड़ियों पर हेलीकाप्टर से चार चरण में पुष्प वर्षा की गई। संगम और माँ गंगा के सभी तटों के अलावा जिले के उन सभी शिवालयों के मार्गों में जहां से ये शिव भक्त गुजरते हैं पुष्प बरसाए गए हैं।

शिव भक्तों को इतना सम्मान किसी सरकार में नहीं मिला

हेलीकाप्टर से श्रद्धालुओं पर हो रही पुष्पवर्षा से शिवभक्त भाव विभोर हो गए। क्षण भर में संगम और गंगा के सभी तटों में बोल-बम का जयघोष गूंजने लगा। संगम की त्रिवेणी का पावन जल बाबा विश्वनाथ की नगरी काशी ले जा रहे शिवभक्त रामेश्वर ने बताया कि एक दशक से अधिक वर्षो से सावन के मास में त्रिवेणी का जल लेकर वह काशी जाते हैं लेकिन शिव भक्तों इतना सम्मान किसी सरकार ने नहीं दिया, जितना योगी जी ने दिया है। दारागंज के दशाश्वमेध घाट से कांवड़ उठाकर पडिला महादेव मंदिर गंगा जल अर्पित करने जा रहे भानुप्रताप कावरियों की आस्था को मिल रहे सम्मान से भाव विभोर हैं। उनका कहना है कि यह पुष्प वर्षा नहीं बल्कि महादेव के आशीर्वाद की वर्षा है जो एक संत मुख्यमंत्री द्वारा ही कराई जा सकती है।

शिव भक्तों के मार्ग में पुख्ता इंतजाम और सुरक्षा व्यवस्था

जिन-जिन मार्गों से ये शिवभक्त गुजरे उन मार्गों में उनकी सुविधा के सभी इंतजाम प्रशासन की तरफ से किये गए हैं। पुलिस कमिश्नर प्रयागराज रमित शर्मा के मुताबिक़ शिव भक्तों के गुजरने वाले सभी मार्गों एवं घाटों पर निरंतर पेट्रोलिंग की व्यवस्था है। संवेदनशील स्थानों पर ड्रोन से निगरानी कराई जा रही है। प्रशासन कट या सम्पर्क मार्गों पर विशेष निगरानी एवं व्यवस्था रख रहा है। कावंड़ मार्गों पर पड़ने वाले अंधे मोड़ों पर साइनेज लगाये गए हैं। उनके यात्रा के मार्ग पर अण्डा-मांस- मछली की दुकानें किसी भी स्थिति में खुली न हों इसे भी सुनिश्चित कराया गया है। इसके लिए संबधित पुलिस स्टेशन कर्मियों को आदेश जारी कर दिए गए हैं। यात्रा में भजन, कीर्तन और भक्ति के गीत के साथ परंपरागत नृत्य, गीत, संगीत की भी अनुमति है, लेकिन प्रशासन ने यह भी अपील किया है कि यह सुनिश्चित किया जाए की डीजे, गीत-संगीत आदि की आवाज निर्धारित मानकों के अनुरूप ही रहे।

पिछले तीन सोमवार पर भी योगी सरकार ने कराई है पुष्पवर्षा

बता दें कि सावन में प्रदेश में शिवभक्त कांवड़ियों पर पुष्पवर्षा का क्रम लगातार जारी है। पिछले तीन सोमवार को जहां काशी, मेरठ, सहारनपुर, बाराबंकी और अयोध्या में पुष्पवर्षा की गई वहीं चौथे सोमवार को प्रयागराज में शिव भक्त कांवड़ियों का सम्मान फूल बरसा कर किया गया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर पिछले 6 साल से प्रदेश में शिवभक्तों का बिल्कुल खास तरीके से सम्मान किया जा रहा है। सरकार की ओर से ना सिर्फ कांवड़ियों पर पुष्पवर्षा की जा रही है, बल्कि उनकी सुविधाओं का भी विशेष ध्यान रखा जा रहा है। खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी सावन के दूसरे सोमवार को मेरठ-दिल्ली हाईवे पर कांवड़ियों पर पुष्पवर्षा कर चुके हैं, जिसके बाद से ही प्रदेश में शिवभक्तों का उत्साह देखने लायक है। वहीं प्रशासनिक अधिकारी भी जगह जगह शिवभक्तों का सम्मान कर रहे हैं। प्रदेश के सभी बड़े शिवालयों में कांवड़ियों की सुरक्षा और सुविधाओं का विशेष ध्यान रखा जा रहा है।

Read more….जनता दर्शन में 400 लोगों की समस्याएं सुनीं सीएम योगी ने, निराकरण के दिए निर्देश

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button