राज्यउत्तर प्रदेश / यूपी

जनता ने दे दी है पिछली सरकारों को पाप की सजा : सीएम योगी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि विकास की प्रक्रिया सदैव सकारात्मक सोच के साथ आगे बढ़ती है। हम लोग यदि उत्तर प्रदेश में यही मानते कि पिछली सरकारों ने कुछ नहीं किया और उसी पर रोना रोते तो हम कुछ भी नहीं कर सकते थे। पिछली सरकारों ने पाप किया था, उस पाप की सजा जनता- जनार्दन ने उनको दे दी है। हमारा कार्य है उत्तर प्रदेश की 25 करोड़ जनता के हित की योजना बनाना और प्रभावी ढंग से उसको जमीन पर लागू करना। आज पूरी प्रभावमकता से यह कार्य प्रदेश में हो रहा है।

सीएम योगी रविवार शाम सिंधी समाज के आराध्य देव, भगवान श्री झूलेलाल (वरुण देवता) जी के नवनिर्मित मंदिर का लोकार्पण करने के बाद उपस्थित जनसमूह को संबोधित कर रहे थे। वैदिक मंत्रोच्चार के बीच मंदिर का उद्घाटन एवं भगवान श्री झूलेलाल की प्रतिमा का अनावरण, पूजन व आरती करने के बाद मुख्यमंत्री ने सभी लोगों को नवनिर्मित मंदिर के लिए बधाई दी। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने कहा कि गोरखपुर के विकास के लिए सिंधी समाज के लोगों व गोरखपुर के नागरिकों ने कभी भी अड़चन नहीं आने दी। पुराने श्री झूलेलाल मंदिर के सामने फोरलेन बनने के दौरान एक भी व्यक्ति शिकायत करने नहीं आया बल्कि उसने विकास में और पीढ़ी का भविष्य उज्ज्वल बनाने में सकारात्मक योगदान दिया। सड़क चौडीकरण में श्री झूलेलाल मंदिर मार्ग में आ रहा था लेकिन पूज्य श्री झूलेलाल की प्रेरणा से सिंधी समाज सकारात्मक सोच के साथ आस्था का सम्मान बरकरार रखते हुए विकास को आगे बढ़ाया। जिस पाकिस्तान से सिंधी समाज के लोग आए वहां आज रोटी के लाले पड़े हैं जबकि ये भारत में विकास में योगदान देने के साथ कई लोगों का पेट पाल रहे हैं।

प्रगतिशील व परिश्रमी है सिंधी समाज

आयोलाल-झूलेलाल का उद्घोष करते हुए सीएम योगी ने कहा कि सिंधी समाज प्रगतिशील समाज है। 1947 में विभाजन की त्रासदी झेलते हुए उसने अपनी आस्था को संरक्षित रखा। पसीना बहाकर, परिश्रम से विकास में महती भूमिका का निर्वहन किया। सिंधी समाज के लोग जहां भी बसे, वहां के विकास के लिए समरस होकर कार्य किए। कोई नहीं कह सकता कि ये लोग बाहर से आए हैं, जिस भी शहर में आए, वहीं सनातनी भाव से स्थानीय परंपरा व आस्था के साथ जुड़ गए। मुख्यमंत्री ने कहा कि सिंधी समाज विरासत के संरक्षण के भाव को लेकर आगे बढ़ा है। देश विभाजन के वक्त ये लोग कोई धन संपदा लेकर नहीं आए थे। भारत उनकी मूल धरती है। देश विभाजन के दौरान अन्याय व अत्याचार का सर्वाधिक शिकार पंजाबी और सिंधी लोगों को होना पड़ा था। खाली हाथ आने के बावजूद इन लोगों ने सकारात्मक सोच के साथ विकास की राह को पकड़ा। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह सुखद संयोग है कि 1950 में ब्रह्मलीन महंत दिग्विजयनाथ जी महाराज ने पुराने झूलेलाल मंदिर का शुभारंभ किया था और सिंधी समाज के चालिहा पर्व के शुभारंभ एवं सावन मास की महाशिवरात्रि के शुभ मुहूर्त पर नवीन मंदिर के लोकार्पण का सौभाग्य उन्हें मिला है। श्री झूलेलाल जी का यह मंदिर विरासत का प्रतीक है। उनकी स्मृतियों के साथ अखंड भारत की लालसा हमेशा बनी रहेगी।

पीएम मोदी के नेतृत्व में भारत ने लगाई लंबी छलांग

इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भारत के वर्तमान सामर्थ्य की चर्चा करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत ने लंबी छलांग लगाई है। जब देश आजादी के 75 वर्ष पूर्ण होने का जश्न मना रहा है तब भारत इस पर दो सौ वर्षों तक राज करने वाले ब्रिटेन को पछाड़कर दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन गया। यह पीएम मोदी के नेतृत्व और 140 करोड़ देशवासियों के कर्तव्य का परिणाम है। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी के नेतृत्व में भारत दुनिया के उन बीस देशों के समूह जी 20 की अध्यक्षता कर रहा है जो दुनिया की 65 प्रतिशत आबादी, 80 प्रतिशत संसाधनों, 85 प्रतिशत जीडीपी और 90 प्रतिशत पेटेंट पर अधिकार रखते हैं।

वैश्विक मंचों पर देश का सम्मान बढ़ाया पीएम मोदी ने

मुख्यमंत्री ने कहा कि पीएम मोदी ने विकास व गरीब कल्याण के कार्यों को ऊंचाई देने के साथ वैश्विक मंचों पर भारत का सम्मान बढ़ाया है। आज पापुआ न्यू गिनी के प्रधानमंत्री पीएम मोदी का पैर छूकर अभिवादन करते हैं, फिजी उन्हें अपना सर्वोच्च नागरिक सम्मान देता है, दुनिया का दादा बनने वाले अमेरिका के राष्ट्रपति ऑटोग्राफ लेने की इच्छा जताते हैं, ऑस्ट्रेलिया के पीएम मोदी इज द बॉस कहते हैं, फ्रांस में उन्हें वहां का सर्वोच्च सम्मान मिलता है, मिस्र और यूएई में भी मोदी को लेकर अपार उत्साह नजर आता है। दुनिया में भारत का बढ़ता सम्मान ही है कि जो लोग पहले सनातनी और भारतीय कहलाने में संकोच करते थे, वे आज गर्व से खुद को भारतीय कहते हैं।

विकास की प्रक्रिया में तेजी से आगे बढ़ा उत्तर प्रदेश

सीएम योगी ने कहा कि पीएम मोदी के मार्गदर्शन में उत्तर प्रदेश भी विकास की प्रक्रिया में तेजी से आगे बढ़ा है। यूपी के हर शहर में नयापन देखने को मिलता है। जल्द ही अयोध्या दुनिया की सुंदरतम नगरी के रूप में नजर आएगी। यहां भगवान श्रीराम का भव्य मंदिर का निर्माण हो रहा है। गोरखपुर का विकास सबके सामने है। यहां कल्पना लगने वाला खाद कारखाना हकीकत है और 110 फीसद क्षमता से काम कर रहा है। एम्स की खुल गया है। संकरी सड़कों की जगह चौड़ी व चमचमाती सड़कों ने ले ली है। दो तीन घंटे की बजाय भरपूर बिजली मिल रही है। माफिया और मच्छर के आतंक से उबरकर यह शहर नए लुक में सबके आकर्षण का केंद्र बन चुका है। यहां की सड़कों व रात की जगमगाहट देख बाहर से आए लोग चकाचौंध में पड़ जाते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह कार्य छह वर्ष पूर्व भी हो सकता था लेकिन सरकारों ने ध्यान नहीं दिया। भयमुक्त वातावरण में लोग रात में 12 बजे तक परिवार के साथ सड़कों पर सैर करते हैं।

मंदिर लोकार्पण समारोह को महापौर डॉ मंगलेश श्रीवास्तव व भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष एवं एमएलसी डॉ धर्मेंद्र सिंह ने भी संबोधित किया। स्वागत संबोधन श्री झूलेलाल सेवा मंडल के अध्यक्ष अर्जुन वालानी, संचालन लक्ष्मण नारंग व आभार ज्ञापन दीवान चंद ने किया। इस अवसर पर प्रमुख रूप से विधायक विपिन सिंह, पूर्व महापौर सीताराम जायसवाल, काशी से पधारे महामंडलेश्वर संतोष दास उर्फ सतुआ बाबा, कालीबाड़ी के महंत रविंद्रदास, चचाईराम मठ के महंत पंचानन पुरी, सिंधी समाज के नरेश बजाज, भीष्म चौधरी, भारतीय सिंधी सभा के अध्यक्ष राजेश नेभानी, भाजपा महानगर अध्यक्ष राजेश गुप्ता, पार्षद पवन त्रिपाठी, ऋषि मोहन वर्मा आदि उपस्थित रहे।

read more… किसानों व शिल्पकारों की समृद्धि में कारगर साबित हो रहा बैम्बू मिशन

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button