राज्यउत्तर प्रदेश / यूपी

प्रदेश में आज से शुरू होगी धान, मक्का, बाजरा और ज्वार की खरीद

प्रदेश सरकार खरीफ विपणन वर्ष 2023-24 में मूल्य समर्थन योजना के तहत आज से पश्चिमी उत्तर प्रदेश एवं बुन्देलखण्ड में और 01 अक्टूबर, 2023 से पूर्वी उत्तर प्रदेश के जिलों में धान का समर्थन मूल्य ग्रेड ‘ए‘ धान 2203 रूपये प्रति कुंतल और कॉमन धान 2183 रूपये प्रति कुन्तल की निर्धारित दर से खरीद शुरू कर रही है। प्रदेश में इस वर्ष धान खरीद के लिए 70 लाख मी0टन क्रय लक्ष्य व 4000 क्रय केन्द्र संचालित किया जाना प्रस्तावित है, जिसमें खाद्य विभाग के 1350 क्रय केन्द्र, पी0सी0एफ0 के 1600, पी0सी0यू0 के 550, यू0पी0एस0एस0 के 200, मण्डी परिषद के 100 और भारतीय खाद्य निगम के 200 क्रय केन्द्र संचालित किये जाने हैं। गत वर्ष की तुलना में इस वर्ष अधिक धान क्रय केंद्र खोले गए हैं। ख़रीद वर्ष 2022-23 में 4431 केंद्र खुले थे जबकि इस वर्ष 2023-24 में अब तक 4440 केंद्र खोले गए हैं।

प्रदेश के खाद्य आयुक्त सौरभ बाबू ने आज बताया कि खरीद के लिए ऑनलाइन किसानों का पंजीकरण एक जुलाई से प्रारम्भ किया गया और अब तक 163061 किसानों का पंजीकरण किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि धान और मोटे अनाज की खरीद के लिए बोरे पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हैं।

खाद्य आयुक्त ने बताया कि मोटे अनाजों के अन्तर्गत प्रदेश में मक्का, बाजरा और ज्वार खरीद हेतु मक्का का न्यूनतम समर्थन मूल्य 2090 रूपये प्रति कुन्तल, बाजरा का 2500 रूपये प्रति कुन्तल, ज्वार (हाईब्रिड) 3180 रूपये प्रति कुन्तल, ज्वार (मालदण्डी) 3225 रूपये प्रति कुन्तल तथा कोदो का समर्थन मूल्य 3,846 रूपये प्रति कुन्तल की निर्धारित दर से खरीद की जायेगी। मक्का, बाजरा एवं ज्वार की खरीद 01 अक्टूबर, 2023 से 31 दिसम्बर, 2023 तक होगी।

सौरभ बाबू ने बताया कि प्रदेश के मुख्य मक्का उत्पादक 29 जनपदों यथा-बुलन्दशहर, हापुड, सहारनपुर, बदायूँ, अलीगढ़, एटा, कासगंज, फिरोजाबाद, मैनपुरी, हरदोई, उन्नाव, सीतापुर, कानपुर नगर, कानपुर देहात, कन्नौज, फर्रुखाबाद, इटावा, औरेया, गोण्डा, बहराइच, श्रावस्ती, बलिया, जौनपुर देवरिया, मिर्जापुर, सोनभद्र, लखीमपुर खीरी, आजमगढ़ एवं ललितपुर में मक्का की खरीद किया जाना प्रस्तावित है।

उन्होंने बताया कि प्रदेश के मुख्य बाजरा उत्पादक 40 जनपदों में बुलन्दशहर, गौतमबुद्ध नगर, बरेली, बदायूँ, शाहजहाँपुर, मुरादाबाद, रामपुर, सम्भल, अमरोहा, अलीगढ़, एटा, कासगंज, हाथरस, आगरा, मथुरा मैनपुरी, फिरोजाबाद, सीतापुर, हरदोई, उन्नाव, कानपुर नगर, कानपुर देहात, इटावा, औरया, कन्नौज, फर्रुखाबाद, वाराणसी, जौनपुर, गाजीपुर, चन्दौली, बलिया, मिर्जापुर, सन्तरविदास नगर, जालौन, चित्रकूट, बाँदा, प्रयागराज, कौशाम्बी, फतेहपुर एवं प्रतापगढ़ में बाजरा की खरीद किया जाना प्रस्तावित है।

इसके अलावा प्रदेश में प्रथम बार मुख्य ज्वार उत्पादक 22 जनपदों यथा-बाँदा चित्रकूट, हमीरपुर, महोबा, कानपुर नगर, कानपुर देहात, प्रयागराज, फतेहपुर, कौशाम्बी प्रतापगढ़, जौनपुर, गाजीपुर, रायबरेली, सीतापुर, उन्नाव, हरदोई, सुल्तानपुर, अमेठी, मिर्जापुर, जालौन, अयोध्या एवं वाराणसी में ज्वार की खरीद की जायेगी। उन्होंने बताया कि आगामी खरीद सीजन में मोटे अनाज एवं मिलेट्स के साथ-साथ माइनर मिलेट्स (कोदो) की खरीद जनपद सोनभद्र में प्रस्तावित है। खरीफ विपणन वर्ष 2023-24 में रागी का समर्थन मूल्य रू0 3846.00 प्रति कुन्तल निर्धारित किया गया है।

मोटे अनाज की बिक्री हेतु ऑनलाइन कृषक पंजीकरण 01 अगस्त, 2023 से प्रारम्भ किया गया है और अब तक 2092 किसानों द्वारा पंजीकरण कराया जा चुका है।

Read more….उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य की अध्यक्षता में 03 अक्टूबर को होगी ग्राम्य विकास विभाग की मण्डलीय समीक्षा बैठक

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button