अंतर्राष्ट्रीयदुनियादेश-विदेश

रूसी राष्ट्रपति ने भारत के पक्ष में दुनिया को दी चेतावानी

भारत और कनाडा के बीच तनाव चरम पर है। इसी बीच में रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने पश्चिमी देशों को चेतावनी दी है। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने कहा कि पश्चिमी देश भारत और रूस के बीच दरार डालने की कोशिश न करें। ऐसा करना पॉइंटलेस है, क्योंकि भारत एक आजाद देश है और अपने नागरिकों के हितों के लिए काम करता है। ब्लैक सी के पास स्थित सोची शहर में एक संबोधन के दौरान उन्होंने कहा कि पश्चिमी देश हर उस देश के लिए एक दुश्मन पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं जो उनके एकाधिकार से सहमत नहीं है, लेकिन भारत सरकार अपने देश के हित में स्वतंत्र रूप से काम कर रही है।

आपको बता दे कि पुतिन का ये बयान ऐसे समय आया है जब रूस से कम दाम में तेल खरीदे जाने पर भारतीय ऑयल कंपनियों की निंदा हो रही है। इस समय रूस-यूक्रेन जंग शुरू होने के बाद से पश्चिमी देशों और यूरोपियन यूनियन ने रूस से तेल खरीदना बंद कर दिया था। पुतिन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हुए कहा- भारत मोदी की लीडरशिप में तेजी से आगे बढ़ रहा है। भारत की आबादी 150 करोड़ है। यहां इकोनॉमिक ग्रोथ 7 प्रतिशत है। देश काफी ताकतवर हो रहा है। भारतीय लोग भी दुनिया के हर कोने में बेहतरीन काम कर रहे हैं।

जैसा कि आप सभी को ज्ञात होगा कि ये पहली बार नही है जब पुतिन ने भारत या PM मोदी की तारीफ की है। इससे पहले पिछले महीने भी उन्होंने कहा था कि PM मोदी मेक इन इंडिया प्रोग्राम को बढ़ावा देने के लिए अच्छा काम कर रहे हैं। व्लादिवोस्तोक में 8वें ईस्टर्न इकॉनोमिक फोरम में मीडिया के सवालों के जवाब देते हुए रूसी राष्ट्रपति ने कहा था कि पहले हमारे पास अपने देश में बनी कारें नहीं थीं, लेकिन अब हैं। यह सच है कि वे ऑडी और मर्सिडीज की तुलना में कम अच्छी दिखती हैं, लेकिन ये कोई समस्या नहीं है। हमें रूस में बनी गाड़ियां इस्तेमाल करनी चाहिए।

read more….Russia-Ukraine war : आखिर जिस बात का था डर उसी कगार पर पंहुचा रूस, पुतिन ने परमाणु हमले की चेतावनी देते हुए कही ये बात

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button