पृथ्वी बैलिस्टिक मिसाइल का सफल रात्रि परीक्षण हुआ

Medhaj News 4 Dec 19 , 10:27:59 Science & Technology Viewed : 431 Times
ALA_1.jpg

भारत ने मंगलवार देर रात पृथ्वी बैलिस्टिक मिसाइल का सफल रात्रि परीक्षण किया | सतह से सतह पर 350 किलोमीटर तक वार करने की क्षमता वाली पृथ्वी बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण ओडिशा के बालासोर में सामरिक बल कमान ने किया | ये मिसाइल अपने साथ 500 से 1000 किलोग्राम युद्ध सामग्री ले जा सकती है | इससे पहले बालासोर में ही 20 नवंबर को पृथ्वी 2 मिलाइल का परीक्षण किया गया था | इससे पहले भी एटमी आयुध ले जाने में सक्षम और 350 किलोमीटर की दूरी तक मार करने वाली पृथ्वी-2 मिसाइल का सफल रात्रि परीक्षण किया जा चुका है | पृथ्वी-2 मिसाइल 500-1000 किलोग्राम तक आयुध ले जाने में सक्षम है और इसके दो इंजन तरल ईंधन से चलते हैं | भारत ने एटमी आयुध ले जाने में सक्षम अग्नि-1 बैलिस्टिक मिसाइल का भी ओडिशा तट के पास भी परीक्षण किया था |





इस मिसाइल की मारक क्षमता 700 किलोमीटर से अधिक है | आपको बता दे कि सरकार ने चंद्रयान-3 (Chandrayaan-3) परियोजना की तैयारी भी शुरू कर दी है और इसके लिये संसद से 75 करोड़ रुपये आवंटित करने की मंजूरी मांगी है |  संसद में पेश वर्ष 2019-20 की पूरक अनुदान मांगों के दस्तावेज से यह जानकारी प्राप्त हुई है | चालू वित्त वर्ष के लिए अनुदान मांगों के पहले बैच के तहत सरकार ने अंतरिक्ष विभाग के मद में नई परियोजना चंद्रयान-3 के लिये उक्त धनराशि आवंटित करने की संसद से मंजूरी मांगी है | ये धनराशि दो श्रेणियों में मांगी गई है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा पेश अनुदान की पूरक मांग संबंधी दस्तावेज में कहा गया है, नई परियोजना अर्थात चंद्रयान-3 के व्यय को पूरा करने के लिये 15 करोड़ रुपये अनुदान को मंजूरी दी जाए | इसमें कहा गया है,नई परियोजना अर्थात चंद्रयान-3 के संदर्भ में मशीनरी और उपकरण तथा अन्य पूंजीगत व्यय के लिये 60 करोड़ रुपये अनुदान को मंजूरी दी जाए |


    0
    0

    Comments

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends

    Special Story