Chingari App 22 दिन में 1 करोड़ से ज़्यादा बार डाउनलोड

Medhaj News 3 Jul 20 , 16:23:31 Science & Technology Viewed : 797 Times
1.PNG

भारत में TikTok ऐप का विकल्प बनने वाले चिंगारी ऐप के डाउनलोड संख्या में अचानक ही तेज़ी आई है। कंपनी ने बताया कि ऐप ने सिर्फ 10 दिन में 30 लाख डाउनलोड का माइलस्टोन प्राप्त कर लिया है, यही नहीं 72 घंटों में इस ऐप को 5 लाख लोगों ने अपने डिवाइस में डाउनलोड किया।भारत में TikTok ऐप की जगह लेने वाला मेड-इन-इंडिया Chingari App तेजी से हमारे और आपके स्मार्टफोन का हिस्सा बनता जा रहा है। लेटेस्ट खबर के अनुसार, इस ऐप को 22 दिन के अंदर 1 करोड़ डाउनलोड मिल चुके हैं। वहीं, एक हफ्ते पहले इस ऐप के डाउनलोड 25 लाख पार हो गए थे, हालांकि इस संख्या में अचानक तेज़ी आई भारत में TikTok बैन होने के बाद। कंपनी के को-फाउंडर सुमित घोष का कहना है कि भारत में टिकटॉक बैन के बाद से ही ऐप को हर आधे घंटे में 10 लाख से ज्यादा व्यू प्राप्त हो रहे हैं।

लेटेस्ट खबर के मुताबिक, Chingari App को Google Play Sore पर 1.1 करोड़ डाउनलोड मिल चुके हैं। भारत में TikTok ऐप का विकल्प बनने वाले चिंगारी ऐप के डाउनलोड संख्या में अचानक ही तेज़ी आई है। कंपनी ने बताया कि ऐप ने सिर्फ 10 दिन में 30 लाख डाउनलोड का माइलस्टोन प्राप्त कर लिया है, यही नहीं 72 घंटों में इस ऐप को 5 लाख लोगों ने अपने डिवाइस में डाउनलोड किया।

जाने-माने फ्रांसीसी सुरक्षा शोधकर्ता Robert Baptiste ने हाल ही में दावा किया कि TikTok के भारतीय विकल्प कहे जा रहे Chingari ऐप को डेवलप करने वाली कंपनी Globussoft की वेबसाइट से समझौता किया गया है। उन्होंने कहा कि साइट में सभी पेजों में एक मैलवेयर स्क्रिप्ट थी, जो यूज़र को कई अलग-अलग वेबसाइट के पेजों पर ले जाती थी। हालांकि, इस दावे पर घोष ने रिस्पॉन्स देते हुए कहा कि इस समस्या को जल्द ही फिक्स कर दिया जाएगा।

आपको बता दें, चिंगारी ऐप यूज़र्स को प्रति व्यू पर प्वाइंट्स प्रदान करता है, जिन्हें बाद में पैसों के रूप में रिडिम किया जा सकता है। टिकटॉक जैसा शॉर्ट वीडियो और ऑडियो Chingari App को बेंगलुरू स्थित दो प्रोग्रामर ने बनाया है, जिनका नाम है बिश्वात्मा नायक और सिद्धार्थ गौतम। इस ऐप में 10 भाषाओं का सपोर्ट मिलेगा, जिसमें अंग्रेजी, हिंदी, बंगला, गुजराती, मराठी, कन्नड़, पंजाबी, मलयालम, तमिल और तेलुगु शामिल हैं। इस ऐप को सबसे पहले गूगल प्ले स्टोर पर नवंबर साल 2018 में लॉन्च किया गया था, हालांकि बाद में जनवरी 2019 में इसे आईओएस के लिए भी लॉन्च कर दिया गया।

जैसा कि सभी जानते हैं भारत सरकार ने टिकटॉक समेत 59 चीनी ऐप्स को भारत में बैन कर दिया गया है। इस पर टिकटॉक का कहना है कि कंपनी के प्रतिनिधि इस मामले पर चर्चा और स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने हेतू सरकारी अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे। बता दें, सरकार ने इस ऐप्स को यह कहते हुए बैन कर दिया कि ये ऐप देश की संप्रभुता और अखंडता, भारत की रक्षा और सार्वजनिक व्यवस्था के लिए खतरा पैदा कर सकते हैं।

बैन हुए 59 ऐप्स में सबसे चर्चित ऐप है टिकटॉक जिसके बैन होते ही, स्वदेशी डेवलपर्स के पास अवसर की भरमार हो गई है। कई ऐप्स बनाकर तैयार किए जा रही हैं, तो कई पहले से मौजूद ऐप्स टिकटॉक जैसा अनुभव प्रदान करने का दावा करती हैं। जैसे कि मित्रों ऐप, रोसोपो, मौज इत्यादि।


    10
    0

    Comments

    • Very good

      Commented by :Amit Kumar
      03-07-2020 22:40:57

    • Very good

      Commented by :Aslam
      03-07-2020 20:47:29

    • Ok

      Commented by :Ashish kumar nainital
      03-07-2020 19:22:53

    • Very good

      Commented by :Tajuddin Akhtar
      03-07-2020 18:22:13

    • Good

      Commented by :Brijesh Patel
      03-07-2020 18:13:58

    • Nice update

      Commented by :Vaibhav Raj Singh
      03-07-2020 16:41:42

    • Load More

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends

    Special Story